महाप्रबंधक ने रेलवे स्टेशन का किया निरीक्षण, निर्माण कार्यों में तेजी लाने का दिया निर्देश

0
279


बलिया ब्यूरो : मंगलवार को स्थानीय रेलवे स्टेशन के परीक्षा की घड़ी सुबह नौ बजे से शुरू हुई। रेल अधिकारियों की टोली के साथ सैलून से बलिया पहुंचे महप्रबंधक राजीव मिश्र ने निरीक्षण की शुरूआत प्लेट फार्म नंबर एक पर बने वीवीआईपी रूम से की। इसके उपरान्त उन्होने स्टेशन के नवनिर्मित यात्री प्रतीक्षालय, बुकिंग आफिस, कम्प्यूटरीकृत आरक्षण केन्द्र, यात्री निवास, सर्कुलेटिंग एरिया, स्टेशन मास्टर कक्ष, रेलवे कालोनी, खान-पान स्टाल, शौचालय आदि विभिन्न यात्री सुविधाओं का निरीक्षण किया। अधिकारियों के साथ नवनिर्मित भृगु वाटिका का निरीक्षण करते हुए जीएम ने वाटिका में पौधरोपण भी किया। टिकट काउण्टर के पास बंद पङी ऑटोमैटिक टिकट वैन्डिंग मशीन कों जल्द बनवाने के लिए उन्होने अधिकारियों को निर्देश दिए।

पत्रकारों से बातचीत में उन्होने कहा कि रेल प्रशासन की सबसे बड़ी प्राथमिकता यात्री सुविधाओं को दुरूस्त करने की है, जिस क्रम में रेल प्रशासन निरन्तर प्रयास कर रहा है। कहा कि बलिया स्टेशन पर यात्री सुविधाएं दुरूस्त है और रेल प्रशासन इसके प्रस्तावित कार्यों पर निरन्तर कार्य कर रहा है। कहा कि प्लेटफार्म नंबर एक के विस्तार के साथ ही प्लेटफार्म पर एक्सीलेटर एवं फुट ओवरब्रिज का कार्य दो वर्षों में पूरा कर लिया जाएगा। इसके साथ ही वाराणसी से छपरा के बीच दोहरीकरण का कार्य भी युद्धस्तर पर चालू है, जिसे आगामी तीन वर्षों में पूरा कर लिया जाएगा। अपने तीस मिनट के निरीक्षण के बाद जीएम अपने सैलून से सागरपाली होते हुए फेफना और चितबड़ागांव स्टेशन का निरीक्षण किये। फेफना-चितबङागांव के मध्य ब्रीज सं0-39 एवं इंजीनियरिंग ज्वाइंट का भी उन्होने जायजा लिया। स्टेशन के निरीक्षण के दौरान उन्होने गर्मी के मौसम में स्टेशन पर पेयजल एवं बिजली व्यवस्था के साथ ही साफ-सफाई रखने के भी कङे निर्देश दिए। पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव मिश्र अपने वार्षिक निरीक्षण के दौरान बलिया रेलवे स्टेशन की चाक-चौबंद व्यवस्था एवं सफाई के लिए उन्होने स्टेशन अधीक्षक संजय सिंह को 25 हजार रूपये का नगद पुरस्कार देते हुए बधाई दी।
निरीक्षण के दौरान जीएम राजीव मिश्र के साथ मंडल रेल प्रबंधक वाराणसी एसके कश्यप, प्रशासनिक अधिकारी निर्माण एल.एम.झा, प्रमुख मुख्य इंजीनियर पीडी शर्मा, मुख्य परिचालन प्रबंधक एवं मुख्य वाणिज्य प्रबंधक अर्चना जोशी,मुख्य सिगनल एवं दूरसंचार इंजीनियर आदित्य कुमार, मुख्य संरक्षा अधिकारी एन.के. अम्बिकेश, मुख्य विद्युत इंजीनियर योगेश अस्थाना, मुख्य कार्मिक अधिकारी एसएमएन इस्लाम, वित्त सलाहकार एवं मुख्य लेखाधिकारी एन.पी.पाण्डेय,मुख्य चिकित्सा निदेशक डा.सतीश चन्द्रा, मुख्य यांत्रिक इंजीनियर ए.के.सिंह, भण्डार नियंत्रक पी.सी.मिश्रा, मुख्य सुरक्षा आयुक्त राजा राम, मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी संजय यादव आदि वाराणसी मंडल के अधिकारी, पर्यवेक्षक तथा कर्मचारी मौजूद रहे।

रिपोर्ट – संतोष कुमार शर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here