भूखे पेट कुछ भी संभव नहीं

0
172

अधभूखे राष्ट्र के पास न कोई धर्म, न कोई कला और न ही कोई संगठन हो सकता है।

mahatma gandhi

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

two × 5 =