मैनपुरी विद्युत् विभाग की लापरवाही से तीन गोवांशों की मौत, अभी भी मृत गायें खेत में पडीं सड रहीं

0
315


मैनपुरी (ब्यूरो) यूपी के मैनपुरी के किशनी छेत्र में विद्युत् विभाग की लापरवाही रविवार की शाम तीन गौवंश पर उस समय भारी पड गई जब ग्यारह हजार की लाइन का तार अचानक टूट कर खेत में घास चर रहीं तीन गायों पर टूट कर गिर गया। जिससे तीनों की तत्काल ही मौत होगई।

किशनी के ग्राम सकतपुर और पहाडपुर के बीच राकेश कठेरिया पुत्र सकटूलाल के खेत से होकर ग्यारह हजार केवी की बिद्युत लाइन गुजर रही है। प्रदेश में सरकार बदलने के बाद गौकशी पर रोक के कारण कई गायें और सांड यूही आबारा होकर खेतों में घास चरते रहते हैं। रविवार की शाम को भी एक गाय और दो बछडे खेत में घास चर रहे थे। करीब छःह बजे शाम अचानक बिजली का एक तार जिसमें बिद्युत प्रवाहित हो रही थी टूट कर तीनों गायों के ऊपर गिर गया। पहाडपुर निवासी प्रत्यक्षदर्शी रामप्रकाश यादव पुत्र गोपीनाथ ने बताया कि उस समय कई गांवों के दर्जनों चरवाहे ओर बच्चे अपनी बकरियां और गाय भैंसे वहीं पर चरा रहे थे कि यह हादशा हो गया। तार गिरते ही तीनों गायों के शरीर से धुआं उठने लगा। उन्होंने तुरन्त ही फोन कर ग्राम मधुपुरी निवासी लाइनमैन संतोष शाक्य से लाइन काट देने को कहा। करीब दस मिनट के बाद लाइन तो कट गई। पर गायों की जिन्दगी खत्म हो गई |

कई घंटों के बाद लाइनमैन ने मौके पर जाकर टूटे तारों को तो जोड दिया पर मृत गायें अभी भी घटना स्थल पर ही पडीं हुईं हैं।विधुत विभाग की लापरवाही तो देखिये  अपना काम तो कर लिया लेकिन मृत पड़ी गोवंसो की कोई सुध नहीं ली गांव बालों के अनुसार राकेश कठेरिया के बगल में ओमकार पुत्र रतीराम यादव का खेत है जिसमें एक बिजली का खम्बा गढा हुआ है। इस खम्बे पर तारों को ठीक से नहीं कसा गया है। जुगाड़ के सहारे लाइन को चला रहे है । जिस कारण किसी भी दिन दुबारा फिर से यही हादशा हो सकता है। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से मांग की है कि इस प्रकार मृत गायों का खेत में पडा रहना ठीक नहीं है। उन्हैं गड्डा खुदवा कर कहीं गढवा देना चाहिये। बिजली बिभाग का आलम यह है कि एक्सईएन का फोन स्विच ऑफ तो एसडीओ  फोन ही नहीं उठाते हैं। जे ई से बात की गयी तो कहते है।आप कही से इंतज़ाम कर लो हम उन्हें गड़बा देगे ।

रिपोर्ट – आशीष सक्सेना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here