ज़मीन बनी हत्या की जड़, मंदिर के महंत की त्रिशूल घोंपकर हत्या

कन्नौज(ब्यूरो)- कन्नौज में देर रात मंदिर के महंत की त्रिशूल घोंपकर हत्या कर दी गयी। हत्या का कारण मंदिर की 55 बीघा जमीन बनी। जिस पर गांव का ही दूसरा बाबा कब्जा करना चाहता था। पुलिस ने हत्या के इस सनसनीखेज मामले में गांव के तीन लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

कन्नौज के ठठिया थाना क्षेत्र के गढ़िया गांव में स्थित सैकड़ों साल पुराना गोदामई देवी का मंदिर है। यहां 15 साल पहले महंत फक्कड़ गिरी आये और जर्जर पड़े इस मंदिर का जीर्णोद्धार करवाया। मंदिर के बगल में ही मंदिर के हिस्से की 55 बीघा जमीन है। जिस पर हुई खेती की कमाई से मंदिर के खर्चे पूरे होते। इसी जमीन पर गांव का ही एक दूसरा बाबा शारदानन्द अपना हक जताता था। कई बार उसने जमीन पर कब्जा करने की कोशिश की, लेकिन हर बार महंत फक्कड़ गिरी पुलिस और ग्रामीणों की मदद से उसकी कोशिश को नाकाम कर देते। इस बात को लेकर वह महंत से रंजिश मानने लगा। देर रात उसने अपने दो शिष्यों के साथ मंदिर में सो रहे फक्कड़ गिरी पर हमला कर दिया और चिमटे से गोदकर उनकी हत्या कर दी। कन्नौज एसपी का कहना है कि आरोपी की तलाश की जा रही है। जल्द ही वह गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here