समुद्रमंथन के समय जिस पर्वत का हुआ था इस्तेमाल, वही मेला देखने जा रहे है लोग

0
586

mandrachal parvat

रामगढ- नोनिहाट खसिया गावं के सभी महिलाएं एवं पुरुष नयी रेल लाइन दुमका से भागलपुर ट्रैक पर चल रही लोकल ट्रैन पर चढ़ कर मंदार महोत्सव मेला देखने जा रहे है |

आपको बता दें कि यह मेला बिहार राज्य के बांका जिला के मध्य बौंसी मैं लगता है पूर्व से माना जा रहा है कि समुद्रमंथन के समय इसी पर्वत का इस्तेमाल किया गया था और मंथन के बाद पुनः मंदार पर्वत को बौंसी मैं रख दिया गया है। तब से आज तक मंदार महोत्सव मेला लगता है।इसी से मंथन के दौरान समुन्दर से अमृत और बीस और अनेक वास्तु प्राप्त हुई थी।

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here