मंगरौरा ब्लॉक प्रमुख कुर्सी के लिए जमकर महासंग्राम

0
143

प्रतापगढ़(ब्यूरो)- लखरनाथधाम ब्लाक में प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के बाद मंगरौरा में तख्ता पलट को लेकर सत्ता संग्राम शुरू हो गया है। सियासी उठापटक के बीच भाजपाई और अपना दल (एस) कार्यकर्ता आमने-सामने हैं। शनिवार को मंगरौरा ब्लाक प्रमुख के पति पर लूट का केस दर्ज होने के बाद जिले की सियासत गरमा गई। मुकदमे से आक्रोशित ब्लाक प्रमुख व बीडीसी सदस्यों ने रविवार को पुलिस अधीक्षक आवास पर पहुंचकर नारेबाजी की। कैबिनेट मंत्री मोती सिंह मुर्दाबाद और सदर विधायक जिंदाबाद के नारे लगाए। मुकदमे को स्पंज करने की मांग को लेकर अद नेताओं ने ज्ञापन सौंपा। उधर, जिले में अद के दोनों विधायक भी ब्लाक प्रमुख के समर्थन में उतर आए हैं। दोनों विधायकों ने रविवार को प्रमुख के साथ एसपी से मुलाकात कर मामले की उच्चस्तरीय जांच कराकर मुकदमा दर्ज कराने वाले के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

मंगरौरा ब्लाक प्रमुख की कुर्सी को लेकर सियासत तेज हो गई है-
शनिवार को पट्टी कोतवाली में कंसापट्टी के रहने वाले रामप्रताप ने ब्लाक प्रमुख पति कुलदीप वर्मा समेत तीन लोगों के खिलाफ लूट व हमले के साथ ही फायर करने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इस घटना को लोग मंगरौरा ब्लाक प्रमुख की कुर्सी से जोड़कर देख रहे थे। खास बात यह थी कि शनिवार को बैंक बंद था। ऐसे में राम प्रताप किस बैंक में रुपये जमा करने जा रहा था। उसने तहरीर में कहा है कि वह सहकारी बैंक पट्टी में रुपये जमा करने के लिए जा रहा था। पति पर दर्ज मुकदमे को लेकर रविवार को ब्लाक प्रमुख कंचन वर्मा मंगरौरा के बीडीसी सदस्यों के साथ अपना दल एस गुट के जिलाध्यक्ष से मिलीं और घटनाक्रम से अवगत कराया। इस मामले को लेकर अद जिलाध्यक्ष, डीपी इंसान, पूनम इंसान समेत बड़ी संख्या में बीडीसी सदस्य पुलिस अधीक्षक आवास पहुंचे।

सभी पट्टी कोतवाली में दर्ज मुकदमे को स्पंज करने की मांग करते हुए नारेबाजी करने लगे। कुछ देर बाद सदर विधायक संगमलाल गुप्ता और विश्वनाथगंज विधायक भी पुलिस अधीक्षक से मिलने पहुंचे। दोनों विधायकों के साथ ब्लाक प्रमुख कंचन वर्मा व अन्य सदस्यों ने एसपी से मुलाकात की। ब्लाक प्रमुखपति के खिलाफ दर्ज मुकदमे को गलत ठहराते हुए जांच कराकर फर्जी मुकदमा दर्ज कराने वाले के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। एसपी आवास पर नारेबाजी होती देख प्रभारी नगर कोतवाल दलबल के साथ पुलिस लाइन पहुंचे। एसपी से मिलने के बाद सभी लौट गए। बता दें कि कुछ दिनों पहले ब्लाक प्रमुख कंचन वर्मा ने कैबिनेट मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह मोती सिंह पर साजिश और उनके भतीजे पर धमकाने का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी थी। हालांकि पुलिस ने मामले को गलत बताया था।

सदर विधायक के समर्थन, कैबिनेट मंत्री के विरोध में नारेबाजी
पुलिस अधीक्षक आवास के बाहर सदर विधायक के समर्थन और कैबिनेट मंत्री मोती सिंह के विरोध में हो रही नारेबाजी से बेल्हा का सियासी माहौल गरमा उठा। एसपी आवास पर जमा ब्लाक प्रमुख समर्थक और बीडीसी सदस्य सदर विधायक जिंदाबाद और कैबिनेट मंत्री मुर्दाबाद के नारे लगाते रहे। बतादें कि प्रदेश की यूपी सरकार के सहयोगी अद एस के जिले से दो विधायक हैं।

एसपी ने लगाई फटकार, गेट पर लगा बैरियर-
पुलिस अधीक्षक आवास पहुुंचीं ब्लाक प्रमुख कंचन वर्मा के समर्थन में आए अद नेताओं ने जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शनकारियों के जाने के बाद एसपी ने संबंधित को जमकर फटकार लगाई। एसपी के आदेश पर मुख्य गेट पर बैरियर लगा दिया गया। वहां अभी तक एक सिपाही रहता था, लेकिन अब संख्या बढ़ा दी गई है। समूह के साथ भीतर कोई प्रवेश नहीं कर सकेगा। प्रवेश करने वाले बाहरी लोगों को पूछताछ के बाद ही अंदर जाने दिया जाएगा।

मंगरौरा पर ‘सत्ता संग्राम’-
एसपी आवास पर कैबिनेट मंत्री मोती सिंह मुर्दाबाद और सदर विधायक जिंदाबाद के लगे नारे ब्लाक प्रमुखपति पर लूट के केस से गरमाई सियासत, समर्थन में उतरे अद विधायक कुछ दिनों पहले ब्लाक प्रमुख ने कैबिनेट मंत्री पर साजिश और भतीजे पर धमकाने का आरोप लगा दी थी तहरीर
एसपी आवास पर नारेबाजी, बीडीसी सदस्यों के साथ ब्लाक प्रमुख को लेकर एसपी से मिले विधायक वही दूसरी तरफ से डी यम का भी घेराव किया ज रहा कुल मिला के प्रतापगढ़ में इस समय राजनीतिक भूचाल अ गया है उधर अपना दल और पिजेपी में आमने सामने तलवार खीच गई है इस समय पिजेपी पर सभी राज नैतिक पर्टियों ने हमला बोल दिया है जहाँ कम्युनिस पर्टिय के जिला प्रभारी ललित नरायन मिश्र ने भी अपनी आवाज बुलन्द किय है दूसरी तरफ से अपना दल बिधाय भी पीछे नही हट रहे है|

रिपोर्ट- सूरज वर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here