उत्तराखंड में माओवादियों की धमक बरकरार, सोमेश्वर में मतदान के दिन फिर मिले धमकी भरे पर्चे

0
300

maoiest

अल्मोड़ा- अल्मोड़ा के सोमेश्वर तहसील में मतदान से ठीक पहले माओवादी पर्चे मिलने और दीवारों पर चुनाव बहिष्कार से जुड़े संदेश लिखे जाने के बाद प्रशासन और खुफिया एजेंसियां एक बार फिर सकते में आ गई हैं। माओवादी पर्चे मिलने के बाद जहां संवेदनशील बूथों पर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई। वहीं, प्रशासन माओवादी गतिविधियों को लेकर फिर हरकत में आ गया।

दीवारों पर लाल स्याही से चुनाव बहिष्कार के संदेश-
बुधवार की सुबह सोमेश्वर के राजकीय इंटर कालेज, फल्यां, चनौली, नैकाना, घुड़दौड़ा, उतरौड़ा समेत ब्लॉक प्रमुख दीपक बोरा के घर की दीवारों पर लाल स्याही से चुनाव बहिष्कार के संदेश लिखे गए थे, जबकि कई जगहों पर माओवादी पर्चे भी फेंके गए थे।माओवादी पर्चे फेंके जाने की खबर जैसे ही प्रशासन को मिली तो उसके बाद तुरंत दीवारों से संदेश मिटाने का काम शुरू कर दिया गया।

सुरक्षा की चाक चौबंद व्यवस्थाएं की गई-
सोमेश्वर में माओवादी संदेश लिखे जाने और पर्चे फेंके जाने की यह तीसरी घटना है। माओवादी संदेशों के बाद प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। चुनाव के दिन इन संदेशों के लिखे जाने के बाद चुनाव को देखते हुए तहसील के संवेदनशील बूथों पर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई। आरओ एके सिंह ने कहा है कि चुनावों को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए विधानसभा के प्रत्येक बूथ पर सुरक्षा की चाक चौबंद व्यवस्थाएं की गई हैं। उन्होंने बताया था कि चुनावों को किसी भी हालत में प्रभावित नहीं होने दिया जाएगा।

वही थानाध्यक्ष ने कहा था कि सोमेश्वर में एक बार फिर माओवादी पर्चे और संदेश लिखने की सूचना प्राप्त हुई है, लेकिन विधानसभा के प्रत्येक बूथ पर सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। संदेश लिखने वाले लोगों और पर्चों की जांच की जाएगी।

रिपोर्ट- मोहम्मद शादाब
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here