मुखबिरी की शक में नक्सलियों ने की ग्रामीण की हत्या

0
357


कोण्डागांव/ छत्तीसगढ़ (रा.ब्यूरो)- जिला में एक ग्रामीण की नक्सलियों ने गोली मार कर हत्या कर दी है। घटना सिटी कोतवाली के मर्दापाल थाना, घोटिया पुलिस चैकी व सिटी कोतवाली के सीमा क्षेत्र की है। बताया जा रहा है कि, नक्सलियों ने ग्रामीण की हत्या मुखबिर होने के शक के चलते किया है। लेकिन मृतक का पुलिस विभाग से कोई संबंध नहीं है।

घटना की पुष्टि करते हुए पुलिस अधीक्षक आशुतोष सिंह ने बताया, 3 मई की रात लगभग 11ः30 बजे के आसपास खड़पड़ी बोटीचापड़ पारा निवासी की 2 नक्सलियों ने जंगलू राम नाग पिता जगत राम नाग (32) की गोली मार कर हत्या कर दी है। हत्या का कारण प्रथम दृष्टियाँ मुखबिरी का शंका किया जाना बताया गया है। पुलिस अधीक्षक ने मृतक जंगजू राम नाग का पुलिस से संबंध नहीं होने की बात कही है। हत्या के बाद ग्रामीणों में रोस है, क्षेत्र में पुलिस गस्त बड़ा दी गई है।

सास- ससुर रोकते रहे और कर दिया हत्या-
जंगलू राम हत्या की उसके ससुराल बखरापारा खड़पड़ी में हुई है। मृतक के सांस-ससुर ने बताया कि, रात के समय ये सभी घर के आंगन में सो रहे थे। इतने में 5-6 नक्सली वहां पहुंचे और जंगलू राम के साथ मारपीट करने लगे। दोनों बुजुर्ग सांस- ससुर नक्सलियों को रोकने की कोशिश करते रहे कि तभी इन 5-6 लोगों में से किसी ने जंगलू राम को गोली मार दिया।

रह चुका है पुलिस का मददगार-
कुछ ग्रामीणों के अनुसार, जंगलू राम बस्तर जिला के लोहंडीगुड़ा थाना क्षेत्र में पुलिस का मददगार रह चुका है। लेकिन कोण्डागांव जिला गठन के बाद से वह पुलिस के लिए काम करना बंद कर चुका था। जंगलू राम के भाई का कहना है कि, नक्सल कुधूर दलम के हेमलाल, रामू राम अपने 5-6 साथियों के साथ रात में पहले बोटीचापड़ स्थित जंगलू राम के घर आए। यहां उन्हे जंगलू नहीं मिला इसके चलते वे उसके भाई को अपने साथ बखरापारा स्थित जंगलू राम ससुराल ले गए। यहां नक्सलियों ने घटना को अंजाम दिया। घटना के बाद से पुलिस ने गांव में गस्त तेज कर दिया है।।

रिपोर्ट-हरदीप छाबड़ा

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here