फंसी लगाने से विवाहिता की मौत

0
85

प्रतीकात्मक

सोनभद्र (ब्यूरो) : ओबरा थाना क्षेत्र के आवासीय परिसर के राजकुमारी नगर में विवाहिता की शुक्रवार की सुबह घर में ही फांसी लगाने से मौत हो गयी। घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गयी।परिजनों ने उसे परियोजना चिकित्सालय में भर्ती किया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।सूचना पाकर मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया।

जानकारी के अनुसार मृतक सरिता चौधरी उम्र 26 वर्ष पत्नी महेंद्र कुमार चौधरी अपने मायका चोपन से गुरुवार की देर शाम अपने ससुराल ओबरा आई थी। मृतका के पति के अनुसार शुक्रवार की सुबह लगभग साढ़े आठ बजे वह घर के बाहर बैठा हुआ था। थोड़ी देर पश्चात जब वह घर में गया तो उसकी पत्नी साड़ी का फंदा बनाकर घर में लगे एंगल के सहारे लटकी पड़ी हुई थी। वहीं मृतका के पति महेंद्र ने बताया कि कि उसके एक डेढ़ वर्ष का बच्चा भी है तथा पत्नी पिछले 4 महीने से गर्भवती चल रही थी।

बता दें कि मृतक सरिता की शादी बीते 29 मई 2014 को हुई थी। तथा वह मूलतः चोपन सरकारी अस्पताल के सामने की रहने वाली बताई जा रही थी।घटना की सूचना पर अस्पताल पहुंचे मृतका के पिता और माता ने हत्या का आरोप अपने दामाद पर लगाया है। हालांकि इस मामले में मृतिका के पिता राजेंद्र निषाद निवासी चोपन वैरियर अस्पताल रोड ने थाने में लिखित तहरीर दिया है कि बिटिया की शादी में क्षमतानुसार दहेज दिए जाने के पश्चात भी ससुराल पक्ष द्वारा आए दिन दहेज और नकदी की मांग की जाती रही है। मायका पक्ष द्वारा मांग पूरी न किए जाने पर सास कौशल्या देवी, पति महेंद्र निषाद तथा देवर धर्मेंद्र कुमार द्वारा लड़की को प्रताड़ित किया जा रहा था। पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ दहेज हत्या का मामला पंजीकृत कर उनकी धरपकड़ में जुट गई थी।

रिपोर्ट – ज़मीर अंसारी ⁠⁠[11:03 PM, 5/12/2017] Anshu Mishra(ABN) Mirzapur: 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here