मैट्रिक(10वीं) के अंक बढ़ाने का खेल, रुपये भेजो और अंक बढ़ा लो

0
303

सुपौल/बिहार: बिहार में टॉपर घोटाले का मामला अभी पूरी तरह से सुलझी भी नहीं है कि इन दिनों मैट्रिक के परीक्षार्थियों को मनमाफिक अंक उपलब्ध कराने का मामला सुर्खी में है। एक नंबर 7256061665 से फोन आता है कि आपको इस-इस विषय में इतना नंबर है। नंबर बढ़ाना है तो इसके लिए तय राशि चुकानी होगी। फिर एकाउंट नंबर भेजा जाता है, जिसमे रुपये डालने को कहा जाता है। इतना ही नहीं फर्स्ट डिवीजन के लिए 61 सौ रुपये, सेकेण्ड डिवीजन के लिए पांच हजार रूपये देने के लिए कहा जाता है। कुछ इसी तरह का फोन सुप्रिया को भी आया है। जब सुप्रिया के चाचा राजीव ने इस बात की जानकारी को लेकर बैंक गए और उक्त एकाउंट नंबर किसका है, जाना तो पता चला कि नालंदा के बिहारशरीफ का रवि पासवान और राकेश कुमार के नाम से ये दोनों एकाउंट नंबर है।  यही मामला ममता कुमारी के साथ भी घटित हुई। गनीमत थी कि इनलोगो ने रुपये नहीं भेजे।

अब सवाल उठता है कि परीक्षार्थी का नंबर उन कथित लोगो के पास कैसे पहुंची। चुकी इस बार मैट्रिक के छात्रों को फॉर्म भरने के दौरान उसे मोबाईल नंबर भी देने के लिए कहा गया था। लिहाजा वो नंबर इन लोगो के पास कैसे पंहुचा। ये जाँच का बिषय है। फिलहाल पीड़ित छात्र सदमे में है कि कही रुपये नहीं भेजने पर नंबर कम न कर दी जाय।

रिपोर्ट- राहुल कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here