नीर निर्मल परियोजना के तहत जल संरक्षण एवं स्वच्छता जन जागरूकता गोष्ठी का आयोजन

0
84

बलिया ब्यूरो : जिला पेयजल एवं स्वच्छता समिति तथा नीर निर्मल परियोजना के संयुक्त तत्वाधान में विकास खण्ड चिलकहर के औंदी में एक सामुदायिक गोष्ठी हुई जिसका मूल विषय, जल संरक्षण एवं अंशदान के प्रति जागरूक करना था। 

    

जिला परियोजना प्रबंधक हेमन्त वर्मा ने नीर निर्मल परियोजना की समीक्षा की। जमा हुए अंशदान के बाबत जानकारी ली। प्रधान द्वारा बताया गया कि लगभग 75 लोगों का पानी कनेक्शन दिया गया हैं। गोष्ठी में बताया गया कि अंशदान वह टोकन मनी है जो ग्राम वासियों को मालिकाना हक दिलवाता है तथा ग्राम पंचायत पेयजल एवं स्वच्छता समिति द्वारा यह संचालित किया जायेगा। जिसका उन्हे प्रशिक्षण दिया जा चुका है तथा आगे भी उनके क्षमता संवर्धन का कार्यक्रम चलता रहेगा। सचिव व प्रधान द्वारा बताया गया कि अंशदान जल्द-जल्द जमा करवा दिया जायेगा। 

जिला परियोजना प्रबंधक श्री हेमन्त कुमार वर्मा ने समस्त ग्रामवासियों से अनुरोध किया कि वे अपना अंशदान जमा करे ताकि जल्द से जल्द पानी का कनेक्शन दिया जा सके एवं लोगों को शुद्ध एवं स्वच्छ पानी उपलब्ध कराया जा सके एवं सचिव व प्रधान से विस्तृत रूप से परियोजना के बारे जानकारी ली एवं पाईप लाईन संबंधित किसी भी समस्या का निदान समय से किया जायेगा ताकि ग्रामवासियों को किसी भी प्रकार की समस्या न हो।    

    

जल संरक्षण पर विषय विशेषज्ञ जिला सलाहाकार जल गुणवत्ता श्री आनन्द सिंह ने तेजी से घटते हुये भूजल स्तर पर चिन्ता प्रकट की तथा बताया कि रसड़ा विकास खण्ड में पानी को लेकर डार्क जोन घोषित किया जा चुका है। तात्पर्य यह है कि काफी रसड़ा विकास खण्ड में दोहन के सापेक्ष जल संरक्षण काफी कम है। विभिन्न तरीको को अपनाते हुये वर्षा जल संचयन आज समय की नितान्त मांग है। शौचालय के बारे में विस्तृत जानकारी ग्राम वासियों की दिया गया।

रिपोर्ट : सन्तोष कुमार शर्मा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY