दोषियों पर कारवाई को लेकर अखिल भारतीय ब्राह्मण जन कल्याण समिति ने बैठक की

0
131

गोरखपुर (ब्यूरो) अखिल भारतीय ब्राह्मण जन कल्याण समिति की एक आवश्यक बैठक चौरीचौरा स्थित कार्यालय पर हुई, जिसमे पांच ब्राह्मणों को जलाकर मारे जाने पर सख्त आक्रोश व्यक्त किया गया,समिति के संस्थापक/राष्ट्रीय अध्य्क्ष पं. कल्याण पाण्डेय ने रायबरेली में 5 ब्राह्मणों को जलाकर मार देने की घटना का जमकर विरोध किया है |

पं. कल्याण ने कहा की भाजपा सरकार ब्राह्मण हित के हर मुद्दे पर फेल है उत्तर प्रदेश में ब्राह्मणों पर तरह तरह से अत्याचार हो रहें हैं ब्राह्मणों की हत्याएं हो रही हैं फिर भी सरकार मौन है, ब्राह्मणों ने वोट देकर भाजपा सरकार बनवाई है क्या इसी दिन के लिए कि उन पर इस प्रकार से अत्याचार हो, ब्राह्मण पूरे प्रदेश में अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहा है | अपराधियों पर किसी का कोई दबाव नही रह गया है और न ही पुलिस का कोई भय , प्रदेश की कानून व्यवस्था पूर्ण रूप से ध्वस्त हो चुकी है। रवि पाण्डेय व् प्रधानचार्य गिरीश पाण्डेय ने कहा की बीजेपी सरकार के सदस्य भी अपराधियों का साथ दे रहे है, उन्होंने कहा कि अगर निष्पक्षता से कारवाई नही की गई तो ब्राह्मण समाज पूरा प्रदेश हिला देगा |

पूर्वांचल प्रभारी संजय तिवारी ने कहा की अब हम इस अत्याचार को नही सहेंगे उन्होंने कहा की कार्यकर्ता व ब्राह्मण समाज के लोग इसका विरोध करते हुए निर्दयी हत्यारोपी को फांसी की सजा सीबीआई जाँच की मांग, हर मृतक के परिजनों को एक एक सरकारी नौकरी, 50-50 लाख नगद मुआवजा देने के साथ ही कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद की गिरफ़्तारी की मांग की डॉ. दिनेश दुबे ने कहा की मुख्यमंत्री योगी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री पाण्डेय को निष्पक्षता से जांच करवाने का आश्वासन दिया है व उनकी बातों पर ध्यान देते हुए सभी मृतको के परिजनों को तत्काल पांच -पांच लाख रुपए मुआवजा के रूप में उपलब्ध करवाया है। लेकिन अगर मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए आश्वासन पर खरा नही उतरती है तो समिति पुरे भारत में बिगुल फूंके गई इसके साथ समिति के राष्ट्रस्तरीय सदस्यों ने प्रधानमंत्री से मिलने का समय माँगा है जल्द ही मिल कर सभी मामलों से उन्हें अवगत कराया जायेगा। इस दौरान आनंद पाण्डेय, बालयोगी बाबा योगराज, गोरखपुर अध्य्क्ष आनंद त्रिपाठी, विपिन शुक्ला, विनय पाण्डेय, रवि शुक्ल, हरेन्द्र पाण्डेय, सर्वेश मिश्रा आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here