बीते दिनों बभनी सीएचसी पर स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा बरती गयी लापरवाही के खिलाफ को डीएम दिया गया ज्ञापन

0
49

सोनभद्र(ब्यूरो)- युवक मंगल दल के कार्यकर्ताओं ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंप कर शनिवार की रात सामुदायिक केंद्र बभनी के स्वास्थ्य कर्मियों की लापरवाही से हुए नवजात की मौत की जाँच कर दोषियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा पंजीकृत करने की मांग की।

संगठन के जिलाध्यक्ष सौरभ कान्त पति तिवारी ने बताया कि आदिवासी क्षेत्र बभनी ब्लॉक के मंचबंधवा गांव निवासी विकास की पत्नि यशवंती ने विगत 17 जून को नवजात शिशु को जन्म दिया था परन्तु शनिवार को रात में शिशु की हालत बिगड़ गई| उस समय अस्पताल में कोई भी कर्मचारी उपस्थित नही था, उसके बाद पूरी रात पुरे आवासीय परिसर में सबके दरवाजे पर पहुंचकर इलाज की गुहार लगाती रही लेकिन कोई भी उस महिला की मदद को आगे नही आया।
अंततः स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही की वजह से नवजात की मौत हो गई। जिसका पता जब युवक मंगल दल के कार्यकर्ताओं को चला तो कार्यकर्ता सामुदायिक केंद्र पर पहुंचे और वहां के डॉक्टर से मामले की जानकारी लेनी चाही तो उन्होंने कार्यकर्ताओं को धमकी देते हुए कहा कि इस मामले से आप लोगो का कोई लेना देना नही है, ज्यादा नेतागिरी मत करो नही तो झूठे मुकदमे में फंसा देंगे।

कार्यकर्ताओं ने जिलाधिकारी से कहा कि आदिवासी व पिछड़े क्षेत्र के लोगो की सेवा करने के बजाय उनको मौत की नींद सुला रहे ऐसे स्वास्थ्य कर्मियों के विरुद्ध कठोर से कठोर कार्यवाही करे जिससे आदिवासियों व वनवासियो का विश्वास इस सुशासन वाली सरकार पर बना रहे और कहा कि यदि दोषियों के विरुध्द कार्यवाही नही की जाती है तो संगठन के लोग आदिवासी महिला को न्याय दिलाने के लिए व्यापक स्तर पर आंदोलन करने को बाध्य होंगे। उक्त अवसर पर कार्यकारी अध्यक्ष अमित पाण्डेय, नगवां ब्लॉक अध्यक्ष सुनील शुक्ला, सदर विधानसभा अध्यक्ष सत्यनारायण कुशवाहा, चतरा ब्लॉक प्रभारी नवीन सिंह, रोहित पाठकअनिल गुप्ता, चन्द्रभान गुप्ता, अवधेश पटेल, बिट्टू तिवारी, जय प्रकाश गौरव, मोनू पाण्डेय, रवि आदि लोग उपस्थित रहे।

रिपोर्ट – ज़मीर अंसारी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY