राजनांदगांव जिले में हो रही शिक्षा की मनमानी को रोकने हेतु मुख्यमंत्री को ज्ञापन

0
122

राजनांदगांव। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को राजनांदगांव विधानसभा व जिले में शिक्षा के अधिकार की धज्जिया उड़ाते हुए मनमानी पर उतर आए निजी स्कूलों की शिकायत  सर्वजनहित समिति जिला राजनांदगांव ने की। इससे पूर्व कलेक्टर मुकेश बंसलजिला शिक्षा अधिकारी को राज्य शासन के शिक्षा विभाग के दिशानिर्देश पर समस्त छात्रों व पालकों को राहत देकर निजी स्कूलों में शासकीय पाठ्यक्रम की किताबों का वितरण करने आदेश जारी करने कहा गया।  अध्यक्ष अशोक फडऩवीस सलहाकार हरमेदर सिंह वाधवा लवकुमार मिश्रा मुकेश बाफना, बंटी सोनी, नीरज नसीने, डॉ. अरूण देवांगन, नविन जयसवाल, अनुप दरयानी, सूरज शर्मा, हेमु सोनी, डॉ. के.एम. श्रीवास्तव, भूनेश्वर वर्मा, महबूब आलम के साथ अन्य सदस्यों ने आज डॉ. भीमराव संविधान के निर्माता के जन्मदिन के अवसर पर कलेक्टर परिसर में क्षेत्र के विधायक व मुख्यमंत्री से मुलाकात कर शिक्षा के नए सत्र व शिक्षा के अधिकार के तहत् समस्त छात्रों व पालकों को आर्थिक और मानसिक बोझ से मुक्त करने की अपील की ।

प्रदेश में सरकार ने स्पष्ट नीति बनाकर समस्त जिला शिक्षा अधिकारियोंं को छात्र व पालकों के हित में कार्य करने कहा गया। किन्तु चंद लोगों को खुश करने के चक्कर में लाखों छात्र व पालकों को आर्थिक प्रताडि़त किया जा रहा है। इस ओर क्षेत्र के विधायक का समिति ने ध्यान आकर्षण किया। प्रतिवर्ष फीस ड्रेस किताबों में बदलाव करके शिक्षा जैसे मंदिर को उद्योगिक केन्द्र में परिवर्तित करके लाखों रूपयों की उगाही करने का माध्यम् बनाया गया है वह कहीं से न्याय संगत नहीं दिखता। समिति के सलाहकार वाधवा ने कहा कि पालक व छात्रों के हित के लिए हर स्तर की लड़ाई लड़ी जायेगी। पालक एक कदम आगे आए समिति उनके लिए सौ कदम आगे बढ़कर कार्य करेगी। इसी तरह सलाहकार लव मिश्रा ने बताया कि आवश्यक्ता पड़ी तो समिति न्यायालय के शरण में जाकर छात्रों के हित की रक्षा के लिए कदम उठाएगी। अध्यक्ष फडऩवीस ने बताया कि समिति ने सारे दस्तावेंज तैयार कर लिए है अतिशीघ्र प्रेसवार्ता लेकर आम जनता के बीच वस्तु स्थिति से अवगत कराएगी व पालकों की एक मीटिंग भी बुलाने की तैयारी में है।

रिपोर्ट- हरदीप छाबड़ा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here