रपटा के स्थान पर पुल बनाए जाने की मांग को लेकर दिया एसडीएम को ज्ञापन

जालौन (ब्यूरो)- शहजादपुरा गांव में आवागमन के लिए बने रपटा पर बरसात के मौसम में रपटा के ऊपर से पानी बहने से आवागमन प्रभावित होने से लोग गांव में ही कैद होकर रह जाते हैं। गांव के लोगों की परेशानी को देखते हुए गांव के लोगों ने जनहित में रपटा के स्थान पर पुल बनाए जाने की मांग एसडीएम को ज्ञापन देकर की। तहसील क्षेत्र के ग्राम शहजादपुरा निवासी बृजेंद्र कुमार, रामू सिंह, विनोद कुमार, आशुतोष, जीवनलाल, कुंवर सिंह, सुनील कुमार आदि सहित एक दर्जन से अधिक लोगों ने एसडीएम भैरपाल सिंह को ज्ञापन देकर बताया कि कुकरगांव से उनके गांव जाने के लिए बीच में रपटा बना हुआ है। रपटा से मात्र 200 मीटर की दूरी पर नून नदी है।

जिसके चलते बरसात के दिनों में रपटा के ऊपर से पानी बहने लगता है। रपटा के ऊपर से पानी बहने से बरसात में गांव के लोग न तो तहसील मुख्यालय जा पाते हैं और न ही अन्य किसी काम के लिए बाहर जा पाते हैं। इतना ही नहीं ऐसे में यदि कोई बीमार भी हो जाए तो उसे इलाज के लिए भी नहीं ले जाया जा सकता है। इलाज के अभाव में मरीज की मृत्यु की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा सकता है। जिसके चलते ग्रामीणों को काफी परेशानी होती है। ग्रामीणों ने बताया कि पूर्व आयोजित हुई जनचौपाल में रपटा पर पुल बनाए जाने का आश्वासन अधिकारियों ने दिया था। इसके अलावा प्रांतीय खंड उरई के अधिशाषी अभियंता द्वारा इस पुल बनाए जाने का स्टीमेट भी बनाया गया था। तो स्वीकृति के लिए लटका पड़ा है। पीड़ित ग्रामीणों ने एसडीएम से जनहित में पुल के निर्माण के लिए अधिशाषी अभियंता प्रांतीय खंड उरई को निर्देशित किए जाने की मांग एसडीएम से की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here