लाखों बच्चों ने खाई पेट के कीड़े वाली दवा

0
17

बलरामपुर (ब्यूरो) – राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के शुभ अवसर पर जनपद बलरामपुर के 1 वर्ष से 19 वर्ष तक के लाखों बच्चों को स्वास्थ्य विभाग द्वारा  सरकारी गैर सरकारी मान्यता प्राप्त विद्यालयों तथा आंगनबाड़ी केंद्रों व अन्य सामाजिक प्रतिष्ठानों पर उपलब्ध कराई गई एल्बेंडाजोल दवा खाई कार्यक्रम की शुरुआत बलरामपुर देहात के प्राथमिक विद्यालय इंग्लिश मीडियम मॉडल स्कूल धुसाह मे सदर विधायक माननीय पलटू राम द्वारा स्कूली बच्चे को दवा खिलाकर की गई  इससे पूर्व माननीय सदर विधायक पलटू राम का स्वागत  मुख्य चिकित्सा अधिकारी  डॉक्टर घनश्याम सिंह  ने किया  तथा कार्यक्रम के बारे में माननीय विधायक को अवगत कराएं  और बताया कि जनपद बलरामपुर में  लगभग 580000  बच्चों का लक्ष्य  रखा गया है|

जिनको  10 अगस्त  को पेट में कीड़े  से बचने वाली दवा देनी है तथा शेष छूटे हुए बच्चों को  17 अगस्त को माप अपडे  पर दवा दी जाएगी वहीं सदर विधायक का स्वागत  जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी  हरिहर प्रसाद गौतम ने भी किया  तत्पश्चात माननीय विधायक द्वारा  स्कूली बच्चों का आंगनवाड़ी केंद्र पर पंजीकृत बच्चों को  एल्बेंडाजोल दवा खिलाकर की गई इस शुभ अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी घनश्याम सिंह जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी हरिहर प्रसाद गौतम बाल विकास परियोजना अधिकारी राकेश शर्मा खंड शिक्षा अधिकारी मनीराम वर्मा भारतीय जनता पार्टी के नगर अध्यक्ष बृजेंद्र तिवारी स्कूल की अध्यापिका प्रतिमा सिंह स्वास्थ्य विभाग से स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी अरविंद कुमार मिश्रा अरुण कुमार मिश्रा जिला समन्वयक अखिलेश श्रीवास्तव राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के जिला कार्यक्रम प्रबंधक शिवेंद्र मणि त्रिपाठी मोहम्मद नाजिम यूनिसेफ एसएम नेट की जिला समन्वयक शिखा तथा अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

आज बलरामपुर जनपद के सभी प्राथमिक विद्यालयों इंटर कॉलेजों मान्यता प्राप्त हुआ गैर मान्यता प्राप्त तथा सभी आंगनवाड़ी केंद्रों पर 1 वर्ष से 19 वर्ष तक के बच्चों को पेट में कीड़े से बचने वाली दवा खिलाई गई इस अवसर पर मुख्य अधिकारी घनश्याम सिंह ने कहा कि कृमि रोग बहुत ही खतरनाक लोग हैं इससे बच्चों का शारीरिक व बौद्धिक विकास रुक जाता है वहीं सदर विधायक पलटू राम ने कहा कि अगर हमें अपने देश प्रदेश को स्वच्छ सुंदर बनाना है तथा विकास की गति में आगे बढ़ाना है तो हमें बच्चों को स्वस्थ रखना ही होगा जब तक बच्चे स्वस्थ नहीं होंगे तब तक देश प्रगति नहीं करेगा वहीं जनपद के सभी विकासखंडों के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों द्वारा स्कूलों आंगनवाड़ी केंद्र पर जाकर बच्चों को दवा खिलाई गई स्वास्थ विभाग की टीम द्वारा पूरे जनपद में कार्यक्रम को सफल बनाने के उद्देश्य से मॉनिटरिंग टीम भी बनाई गई जो  विद्यालय में तथा आंगनबाड़ी केंद्रों पर जाकर दवा की उपलब्धता व प्रचार-प्रसार सामग्री का मूल्यांकन करें रहे थे वही कार्यक्रम को सफल बनाने के उद्देश्य गुणवत्ता का मूल्यांकन के लिए शिक्षा विभाग व बालविकास विभाग द्वारा टीमें बनाकर कार्यक्रम का मूल्यांकन कराया गया |

रिपोर्ट :- गुलाम नबी कुरैशी 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here