घटना स्थल से बरामद मोबाइल बना चर्चा का विषय

0
72

पुरवा उन्नाव ब्यूरो : संदिग्ध परिस्थितियों में पिता पुत्र की मौत का रहस्य अभी तक ससपेन्स बना हुआ है। घटना स्थल से बरामद मोबाइल पर अब तक कोतवाली पुलिस चुप्पी साधे है जो आम लोगो में चर्चा का विषय बना है तीन दिन बीत जाने के बाद भी कोतवालीपुलिस अभी भी हाथ पर हाथ धरे बैठी है फिलहाल घटना स्थल से बरामद मोबाइल कुछ और ही इसारा कर रहा है फिर हाल कोतवाली पुलिस ने दुर्घटना का मुकदमा दर्ज कर शान्ती से बैठ गयी है।

प्राप्त विवरण के अनुसार शुक्रवार 14 अप्रैल की रात में पुरवा कस्बे में हजरत हकीम शाह रहमातुल्ला अलैह की दरगाह पर हो रहे सालाना उर्स के मौके पर जवाबी कौवाली का आयोजन था जहां मो0 शमसाद खां उम्र लगभग 50 वर्ष पुत्र पुत्तन खां साथ में इनका पुत्र मो0 अजमेरी खां 25 वर्ष पुत्र शमसाद खां दोनो ही लोग निवासी ग्राम मन्षाखेड़ा थाना पुरवा कौवाली का प्रोग्राम सुन्ने आये थे जहां शुक्रवार की बीती रात में समय लगभग 2 बजे रात्रि में पुरवा से अपने गांव मन्षाखेड़ा के लिये अपनी बाइक से चले थे परन्तु घर न पहुंचे। जहां शनिवार की सुबह पुरवा से बेवल मन्षाखेड़ा मार्ग पर ग्राम कोदईयाखेड़ा के सामने शमसाद खां का शव सड़क किनारे पड़ा पाया जाने तथा इनके पुत्र अजमेरी खां बेहोसी की हाल में पाये जाने से हड़कम्प मच गया। घटना की सूचना कोतवाली पुलिस को दी गयी जहां मृतक शमसाद का शव पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु जिला अस्पताल के लिये भेजा वही गम्भीर रूप से घायल अजमेरी को सी0एच0सी0 लाया गया जहां डाक्टरों ने जिला अस्पताल के लिये रिफर कर दिया था परन्तु जिला अस्पताल के डाक्टरों ने हालत नाजुक देख कानुपर हैलट अस्पताल के लिये रिफर कर दिया था। जहां देर रात दौरान इलाज अजमेरी की भी मृत्यु हो गयी पिता पुत्र दोनो की मौत से परिजनो तथा इलाकाई लोगो में मातम छा गया। कोतवाली पुलिस ने निजाम पुत्र स्व0 शमसाद की तहरीर पर धारा-379/ 304।,/338/427 का अभियोग दर्ज कर लिया परन्तु घटना के तीन दिन बीतने के बाद भी पुलिस अब तक यह पता नही लगा पायी की यह हत्या है कि दुर्घटना जिसे जानने के लिये आम जनमानस बेचैन है।

रिपोर्ट – मो. अहमद चुनई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here