प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने दी यूपी को एक और सौगात, अहमदाबाद-मुंबई के बाद देश की दूसरी बुलेट दिल्ली से बनारस के बीच दौड़ेगी

0
2548
The Prime Minister, Shri Narendra Modi
The Prime Minister, Shri Narendra Modi

दिल्ली- प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने यूपी को एक बड़ी सौगात के तौर पर एक बुलेट ट्रेन का तोहफा दे दिया है | अब इस नए तोहफे के तहत दिल्ली से बनारस तक के लिए देश की दूसरी मेट्रो ट्रेन चलायी जायेगी | दिल्ली से बनारस यानी कि वाराणसी की दूरी तक़रीबन 782 किलो मीटर है इस दूरी को फिलहाल तय करने में अलग-अलग ट्रेनों से 10 से 14+ घंटों का समय लगता है जबकि बुलेट ट्रेन आने के बाद इस सफ़र को मात्र 2 घंटे 40 मिनट में ही तय कर लिया जाएगा |

बहुत तेजी से काम कर रही है सरकार –
बता दें कि मोदी सरकार यूपी के वाराणसी जो कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र भी है को दिल्ली से हाई स्पीड ट्रेन से जोड़ने के लिए बहुत तेजी से काम कर रही है | बताया जा रहा है कि दिल्ली से वाराणसी तक बुलेट ट्रेन के लिए लाइन बिछाने और उसे संचालित करने में कुल 43 हजार करोंड के आस-पास का खर्चा आएगा | दिल्ली वाराणसी बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट दिल्ली कोलकाता बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का ही एक हिस्सा है | दिल्ली से कोलकाता की दूरी तक़रीबन 1513 किलोमीटर है और बुलेट ट्रेन के द्वारा इस दूरी को तय करने में आने वाले समय में मात्र 4 घंटे 56 मिनट यानी की 5 घंटे ही लगेंगे जबकि फिलहाल इस दूरी को तय करने में तक़रीबन एवरेज 24 घंटे का समय लग ही जाता है |

इसे भी पढ़ें… सुरेश प्रभु ने किया एलान, 2023 भारत में भी दौड़ेगी बुलेट ट्रेन

यूपी विधानसभा चुनावों से पहले हो जायेगी घोषणा कि कब से दौड़ेगी बुलेट ट्रेन –
बता दें कि केंद्र सरकार 2017 में यूपी में होने वाले चुनावों को मद्देनजर रखते हुए बहुत तेजी के साथ इस प्रोजेक्ट पर कम कर रही है | प्रोजेक्ट पर अध्ययन करने के लिए भारत सरकार ने स्पेन की एक कंपनी के साथ करार भी किया है जो अपनी फाइनल रिपोर्ट इसी वर्ष नवंबर तक सरकार को सौंप देगी |

रिपोर्ट आने के बाद यह साफ़ हो जाएगा कि दिल्ली से वाराणसी के बीच बुलेट ट्रेन कब तक दौड़ेगी और इस प्रोजेक्ट में सरकार की जेब से कितना धन खर्च होने वाला है |
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here