मंत्रियों पर चला मोदी का हथौड़ा, ख़त्म होगा VIP कल्चर, लाल बत्ती हुई बैन

0
150

नई दिल्ली – प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने VIP कल्चर पर सबसे करारी चोट की है और न केवल VIP कल्चर ही अपितु देश भर के तमाम सांसदों, विधायकों और अन्य जनप्रतिनिधियों जो कि अपनी गाड़ियों पर लाल बत्ती लगाकर सडकों पर निकलते थे | उन सभी के ऊपर प्रधामंत्री श्री मोदी ने करारा वार किया है, आपको बता दें कि आगामी 1 मई से देश के सभी मंत्रियों, विधायकों और नेताओं की गाड़ियों के उपर से लगी लाल बत्ती उतार ली जायेगी | यानी 1 मई से देश का कोई भी राजनेता या जनप्रतिनिधि जिन्हें भी लाल बत्ती लगाकर चलने का विशेषाधिकार प्राप्त था वह समाप्त हो जाएगा वापस ले लिया जायेगा |

नियम तोड़ने पर मंत्रियों पर भी होगी कार्यवाही –
केंद्रीय ट्रांसपोर्ट मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि सडकों पर मंत्री लाल बत्ती लगाकर बिना रुके भीड़ को चीरते हुए निकल जाते थे जिससे जनता के भीतर एक रोष था | अक्सर यह देखा गया है कि इस VIP कल्चर की वजह से कई बार लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा है | नितिन गडकरी ने कहा है कि यह एक बहुत ही बेहतरीन निर्णय है और इसे माननीय प्रधानमंत्री द्वारा लिया गया है | इस नियम से किसी को भी छूट नहीं दी गयी है | यदि कोई भी इस नियम को तोड़ेगा तो उसके खिलाफ अवश्य कार्यवाही की जायेगी |

ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर ने कहा है कि इस निर्णय से लोगों के बीच राजनेताओं की छवि सुधरेगी | आम जनता का लोगों के प्रति भरोषा बढेगा | उन्होंने कहा है कि दुनिया के कई देश ऐसे है जहाँ पर कई मन्त्री खुद ही अपनी गाडी चलाकर जाते है |

नियमों में होंगे परिवर्तन-
प्राप्त जानकारी के आधार पर बताया जा रहा है कि अब नियमों में परिवर्तन किये जायेंगे | नए नियम के अनुसार अब केवल और केवल एम्बूलेंस, फायर ब्रिगेड और पुलिस जैसे इमरजेंसी सेवाओं में ही केवल नीली बत्ती लगाई जायेगी |

इस फैसले को लागू करने के लिए सेन्ट्रल मोटर वेहिकल रूल 1989 में बदलाव किया जाएगा| इसी नियम के तहत केंद्र सरकार और राज्य सरकारें वीआईपी को गाडियों के ऊपर लाल और नीली बत्ती लगाने की अनुमति देती हैं| इस नियम का रूल का 108 (1) (3) कहता है कि (iii) a vehicle carrying high dignitaries as specified by the Central Government or the State Government, as the case may be, from time to time; यानि केंद्र सरकार और राज्य सरकारें ये तय करेंगी कि किन गाडियों के ऊपर लाल और नीली बत्ती लग सकती हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here