इस साल 98% बारिश की संभावना

0
92


फतेहपुर चौरासी/उन्नाव (ब्यूरो) चार दिनों बाद पूर्वी उत्तर प्रदेश में लोगों को गर्मी से राहत मिलने की संभावनाएं प्रबल हैं, 19-20 जून से पूर्वी उत्तर प्रदेश में प्री मानसून की फुहारें गिरने लगेंगी | वही 2 दिनों बाद मानसून पूरी तरह से एक्टिव हो जाएगा, आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक जेपी गुप्ता के अनुसार इस साल 98 प्रतिशत तक बारिश होगी इस साल बंगाल की खाड़ी में मानसून पूरी तरह से एक्टिव बना हुआ है।

केरल में समय से एक-दो दिन पूर्व ही आ गया था इसलिए इस वर्ष अच्छा मानसून आने की संभावना जताई जा रही है जेपी गुप्ता ने बताया कि इस साल पूर्वी उत्तर प्रदेश में 19 जून से प्री मानसून की फुहारे गिरने लगेंगी और 22 जून से पूरी तरह से मानसून आ जाएगा उन्होंने बताया कि जून से सितंबर तक 98 प्रतिशत तक बारिश होने की उम्मीद जताई गई है। जिसके तहत करीब 854 मिलीमीटर बारिश होने की संभावना है जोकि 890 मिलीमीटर तक बारिश होती है इसे सामान्य मानसून की श्रेणी में रखा जा सकता है उन्होंने बताया कि या आंकड़ा 4% तक कम ज्यादा हो सकता है वैज्ञानिकों के अनुसार कुछ सालों में मानसून आने लगा था लेकिन इस वर्ष समय से मानसून पूर्वी उत्तर प्रदेश पहुंचने की संभावना बनी है जो की बहुत ही अच्छे संकेत है।

पिछले 6 सालों में इन तारीखों पर पूर्वी उत्तर प्रदेश पहुंचा मानसून
2011में21जून 1263.9मिमी
2012में19जून878.4मिमी
2013में 18जून 1148मिमी
2014में23 जून687.3मिमी
2015 में25 जून 542.3मिमी
2016में 2 जुलाई739.4मिमी

रिपोर्ट – रघुनाथ प्रसाद

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY