मां ने अपनी बेटी की जान बचाने के लिए लगाई एसएसपी से गुहार

0
51

धनबाद(ब्यूरो)- महुदा थाना क्षेत्र के कंचनपुर निवासी सुनिया देवी पति समर रवानी ने वरीय पुलिस अधिक्षक धनबाद को मंगलवार को पत्र देकर अपने पुत्री चिंता देवी के पति जीतेन्द्र रवानी पिता केशर रवानी पर दूसरी शादी करने एवं पुत्री चिंता देवी को घर में नजर बंद करने का आरोप लगाते हुए न्याय की गुहार लगाई है।

आवेदन में सुनिया देवी ने कहा है कि उनकी पुत्री कि शादी लगभग दो वर्ष पहले जीतेन्द्र रवानी पिता केशर रवानी, चांदमारी बेडा, थाना धनसार के साथ हिन्दू रीती रिवाज के साथ महुदा ब्रम बाबा मंदिर में संपन्न हुआ था।14 जुलाई को मेरा दामाद किसी लड़की को लेकर भाग गया था। गाँव वालों की सुचना पर हम लोग धनसार थाना में जाकर सुचना दिए लेकिन थाना द्वारा कोई करवाई नहीं किया गया। 20 जुलाई को में दामाद ने लड़की से शादी कर अपना घर आ गया।

इसकी सूचना मिलने पर मैं धनसार थाना प्रभारी के पास गई, लेकिन उन्होंने करवाई न कर उलटे मुझे समझाने लगे की अपना बेटी को उसी घर में रहने दो। काफी मिन्नत करने के बाद थाना प्रभारी द्वारा कोई करवाई नहीं किया गया। आज मैंने एसएसपी महोदय से करवाई के लिए लिखित आवेदन दिया है। मेरी पुत्री को वे लोग नजर बंद करके रखा है किसी से मिलने नहीं दिया जा रहा है।

मुझे आशंका है कि मेरी पुत्री को मेरा दामाद उसका बड़ा भाई अनिल रवानी, गोतनी सुजन्ति देवी आदि हत्या कर सकते हैं।वही आवेदन की एक प्रति झरखण्ड ग्रामीण विकास ट्रस्ट के अध्यक्ष शंकर रवानी को भी दिया गया है। झारखण्ड ग्रामीण विकास ट्रस्ट के अध्यक्ष शंकर रवानी ने कहा कि पीड़िता को हमारी संस्था पूरा क़ानूनी सहायता करेगी, पीड़िता को न्याय दिलाया जाएगा।

रिपोर्ट-गणेश कुमार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY