उपजिलाधिकारी के आश्वासन पर मुन्नी देवी ने तोड़ा अनशन

0
51


उन्नाव (ब्यूरो) तहसील क्षेत्र में सरकारी भूमि, तालाबों व ग्राम समाज की भूमि पर अवैध कब्जे हटवाने को लेकर मंगलवार को आमरण अनशन पर बैठीं समाज सेविका मुन्नी देवी का अनशन बुधवार को सुबह लगभग  11 बजे उपजिलाधिकारी प्रदीप कुमार के आश्वासन पर समाप्त हो गया।

इस बीच तहसील प्रशासन ने अनशन समाप्त कराने को लेकर मंगलवार देर शाम को मुन्नी देवी से अभद्रता भी कर चुका था, जबरन बलपूर्वक तहसील परिसर से उनको बिना महिला पुलिस के देर शाम को कानूनगो रजनीश बाजपेयी ने खदेड़ने का प्रयास भी किया था, परन्तु मीडिया के सक्रिय होने के कारण खदेड़ नहीं पाए थे, लेकिन बुधवार की सुबह जब मुन्नी देवी अनशन स्थल से दैनिक कार्य के लिए गई हुईं थी, तभी प्रशासन ने उनके बैनर व तखत को जप्त कर लिया और जब वे अनषन स्थल लौटीं तो उनके साथ धक्का-मुक्की भी की गई।

उक्त बातें मुन्नी देवी ने मीडियाकर्मियों के सामने बताईं। इस बीच अवैध कब्जे हटवाने को लेकर तहसील प्रशासन के हाथ पैर फूले रहे । अनशन समाप्त कराने को लेकर उपजिलाधिकरी प्रदीप कुमार ने मुन्नी देवी की सभी मांगों को मानते हुए उन्हें तीन दिन का समय दिया है कि तीन दिनों में सभी अवैध कब्जेदारों से कब्जे मुक्त करा लिए जाएंगे। अपना आठ सूत्रीय मांग पत्र एसडीएम को सौपते हुए मुन्नी देवी ने कहा कि यदि तय समय सीमा में कार्य न हुआ तो 13 अगस्त से पुनः आमरण अनषन षुरू करूंगी। इस बीच तहसील प्रशासन के निर्देष के बाद पाटन सड़क के किनारे फैले अतिक्रमण को लोग स्वयं हटाते नजर आए।अब देखना होगा कि निर्धारित समय सीमा के अन्दर प्रषासन अवैध कब्जे हटा पाता है अथवा नहीं।

रिपोर्ट – मनोज सिंह

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY