करोड़ों की क़ीमत, प्राचीन मूर्तियों की चोरी

0
132

drsur
वारिसनगर-समस्तीपुर : थाना क्षेत्र के डरसुर गांव के ठाकुरवाड़ी मंदिर से शनिवार की रात्रि अज्ञात चोरों ने प्राचीन काल की आठ मूर्तियों की चोरी कर ली. इस आशय की एक प्राथिमिकी उक्त मंदिर के महंत सह मोहिउद्दीननगर थाने के सुल्तानपुर गांव वासी श्री श्री 108 मंगल दास ने रविवार को थाने में दर्ज करायी है |

दर्ज प्राथिमिकी में कहा है की वे एवं मंदिर के रसोइया चन्देश्वर मंडल, लालन मंडल, भोला साह व सुरेन्द्र मंडल ने शनिवार की रात्रि करीब नौ बजे मंदिर में भगवान को भोग लगाया, पश्यात मंदिर के गेट में ताला लगाकर वे सभी सोने चले गए. प्राथमिकी के मुताबिक सभी लोगों के चले जाने के बाद वो वहीं बगल के कमरे में चाभी को अन्य दिनों के भांति दीवाल में टांग कर सो गए |

जब सुबह उठकर नित्यक्रिया से निवृत होकर भगवान की पूजा-अर्चना हेतु ताला खोलकर अंदर प्रवेश किया तो देखा की अंदर की सभी आठ सोने के रंग की पौराणिक राम, सीता, लक्ष्मण, भरत, शत्रुध्न, राधे, कृष्ण व हनुमान जी की मूर्तियां गायब है, प्राथमिकी में कहा गया है कि अज्ञात चोरों ने किसी दूसरी चाभी से ताला खोलकर सभी मूर्तियों की चोरी कर पुनः उसी ताले को लगा दिया, महंथ ने प्रथिमिकी में चोरी गई मूर्तियों की कीमत एक लाख से पांच लाख रुपये तक आंकी है, इधर थानाध्यक्ष विश्वनाथ प्रसाद रवि ने बताया की घटना की जानकारी मिलते ही वो पुलिस बल के साथ घटना स्थल का मुआयना किया, उन्होने बताया कि ये घटना कई पहलुओं से जुड़ा है. इसे आपसी रंजिश से भी माना जा रहा है, फिलहाल मामले को दर्ज कर प्रत्येक बिंदुओं पर जांच की जा रही है |

रिपोर्ट – रंजीत कुमार

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY