एन.एच. 56 के चौड़ीकरण के खनन में हो रहा बड़ा खेल, भूस्खलन का बढ़ रहा खतरा

0
98

अमेठी(ब्यूरो)- तहसील मुसाफिरखाना के अंतर्गत एन0एच0 56 के चैड़ी करण मे मिटटी खनन की अनुमति जिला प्रशासन ने एक मीटर गहरी खोदाई की दी है। लेकिन परमीशन और रायल्टी के नाम पर तीन मीटर खोदाई कार्यदायी संस्था द्वारा करायी जा रही है। खनन का नंगा खेल देखना हो तो जगदीषपुर थाना क्षेत्र के कंजास गाॅंव आइये जो खनन के तांडव के कारण टापू बन गया है।

गौरतलब है कि लखनऊ-सुलतानपुर राष्टीय राजमार्ग 56 के फोरलेन चोड़ीकरण के लिए ग्राम सभाओ एवं किसानो से सहमति लेकर कार्यदायी संस्था दिलीप बुल्डकान कांस्टेक्षन कम्पनी द्वारा पोकलैण्ड मषीन द्वारा क्षेत्र के अलग अलग गॅंावो मे मिटटी खनन का कार्य कराया जा रहा हैै। 24 धन्टे मे सैकड़ो डम्फर मिटटी निकाली जा रही है।जिला प्रषासन ने खनन शुल्क जमा कराकर निजी और सरकारी भूमि पर एक मीटर गहरी खोदाई की अनुमति कार्य दायी संस्था को दे रखी है।लेकिन कार्यदायी संस्था द्वारा खनन की शर्तो का पालन नही किया जा रहा है। या फिर कहा जा सकता है कि मतलब मिटटी निकालन है , प्रषासन की अनुमति सिर्फ बहाना है।

महीनो से जगदीशपुर थाना क्षेत्र के कंजास गाॅंव मे कार्यदायी संस्था द्वारा मिटटी खनन कराया जा रहा है। जिला प्रशासन ने एक मीटर गहरी खोदायी की अनुमति रायल्टी जमा कराकर दी है। खनन 3 मीटर गहरा होने से माननीय सर्वोच्च के खनन सम्बंधी आदेष की धज्यिया उड़ रही है। बल्कि गहरा खनन होने के कारण भूस्खलन का खतरा मड़रा रहा हैं । बरसात आने को है खनन से ग्रामीण खौफजदा है। इस बावत एस0डी0एम0 अभय कुमार पाण्डेय से पूॅछे जाने पर उनका कहना था कि खोदायी एक मीटर गहरी होनी चाहिए। यहाँ बताना यह जरूरी है कि आम आदमी किसान अपने खेत की मिटटी खोदने की हिम्मत नहीं जुटा पाता है । किसान खौफजदा रहता है कि कही पुलिस की 100 नंबर की गाड़ी न आ जाये। और यहाँ खुले आम सुप्रीम कोर्ट के आदेश का मखौल उड़ाया जा रहा है आखिर इसका जिम्मेदार कौन है।

बिना सड़क सुरक्षा मानक के चिन्ह व नम्बर प्लेट के फर्राटे भर रहे है डम्फर-
सड़क निर्माण मे मिटटी की ढुलायी कर रहे है पीले रंग के डम्फर जिस पर दिलीप बुल्डकान कानटेक्षन कम्पनी के बाहन हर 5 मिनट मे फर्राटे भरते सड़क पर दिख ही जायेंगे लेकिन उनकी बिषेषता है कि किसी भी डम्फर के पीछे गाड़ी नम्बर व सड़क सुरक्षा मानक के चिन्ह नही दिखायी देते है, जो परिवहन यातायात नियमो के उल्घ्घन की जद में आता है।

रिपोर्ट- हरि प्रसाद यादव

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY