नाबालिक लड़की को बहलाकर भगा ले गया पडोसी गाँव का युवक

0
101

चकलवशी/उन्नाव(ब्यूरो)- नाबालिग लड़की को दूसरे गांव का युवक बहाने से कहीं लेकर चला गया| परिजनो ने पुलिस को प्रार्थना पत्र दिया लेकिन पुलिस मामले को गंभीरता से लेने के बजाय टरकाती रही तब पीड़ित ने पुलिस अधीक्षक नेहा पांडेय से न्याय की गुहार लगाई, उनके आदेश पर पुलिस ने युवक के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया है।

माखी थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी लडकी के घर सफीपुर कोतवाली क्षेत्र के अतहा गांव निवासी संदीप का आना जाना था, जिससे उसने नाबालिग लड़की के साथ मित्रता कर ली और 11 मई को चकलवशी चौराहे से कुछ सामान खरीदने के बहाने लडकी को बाइक से लेकर चला आया| शाम तक घर न पहुंचने पर लड़की की मां ने मोबाइल फोन पर सम्पर्क किया लेकिन बात नहीं हो पाई 12 मई को लडकी के पिता युवक के गाव पता करने के लिए गये जहां उन्हें बताया गया कि वह तो गुजरात चला गया है तब उसने पुलिस को सूचना दी पुलिस ने मामले को आपसी सहमति का बताया और कहा कि दोनों सहमति से गये हैं आ जायेगे लेकिन मामले में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई और थाने से टहला दिया| पीड़ित ने अपनी लडकी के नाबालिग होने के साक्ष्य भी दिये, हारकर 16 मई को पुलिस अधीक्षक नेहा पांडेय को प्रार्थना पत्र दिया उनके आदेश पर उसी रात माखी पुलिस ने मामला दर्ज किया गया है। सवाल यह है कि आखिर माखी पुलिस ने पहले मामले में गंभीरता से लिया क्यों नहीं लिया जबकि पीड़ित का कहना था कि युवक हमारी लडकी को बहला फुसला कर भगा ले गया है और मामले को टालते रहे। उच्चाधिकारियों ने सख्त दिशानिर्देशों दिये हैं कि थाने पर पहुचने वाले फरियादी के साथ हर हाल में न्याय किया जाय उसके बाद भी माखी पुलिस हर मामले को अपनी तरह से देखती है।

रिपोर्ट- जितेन्द्र गौड़ 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here