नगर पंचायत अध्यक्ष ऊँचाहार प्रमोद गुप्ता ने ईओ के विरुद्ध खोला मोर्चा 

0
106

ऊंचाहार/रायबरेली (ब्यूरो)– मामला ऊंचाहार नगर पंचायत का हैं, जहाँ पर  संवैधानिक पदो पर बैठे जनप्रतिनिधि अपने अधिकारो के प्रति इस कदर कमजोर हो गए है । कि उनके अधीनस्थ अधिकारी मनमानी पर उतार आए  हैं और वह कुछ न कर सके | इसका अभी ताजा उदाहरण जीता जागता ऊंचाहार के नगर निकाय है जहां पर अध्यक्ष ने खुद को असहाय महसूस करते हुए जिलाधिकारी और जिले के प्रभारी मंत्री ,से अपने अधिकारों की रक्षा करने की गुहार लगाई है |

नगर पंचायत ऊंचाहार  का मामला इस समय क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है | मामले की जांच फिलहाल एसडीएम कर रहे है | अध्यक्ष प्रमोद गुप्ता ने जिले के प्रभारी मंत्री नन्द गोपाल नंदी और जिलाधिकारी से मुलाक़ात करके संवैधानिक अधिकारो के हनन को लेकर गंभीर शिकायत की है | और शिकायती पत्र मे आरोप लगाया गया है *कि अधिशाषी अधिकारी  पावन किशोर द्वारा अध्यक्ष पर अनुचित राजनैतिक दबाव डालकर मनमाने ढंग से बिल पर हस्ताक्षर करवाया जा रहा है |

ईओ पर स्थानीय राजनीति मे लिप्त होने का आरोप लगते हुए कहा गया है कि निकाय बोर्ड की बैठक बुलाने का अधिकार अध्यक्ष को है , लेकिन अध्यक्ष द्वारा 12 मई को बैठक बुलाने का निर्देश दिया गया था | जिसकी अवहेलना की गयी | फिर मनमाने  ढंग से 9 मई को बैठक बुलाने का एजेंडा जारी किया गया | जिसमे ईओ द्वारा यह दर्शाया गया कि स्थानीय विधायक के निर्देश पर यह बैठक बुलाई गयी है | जबकि स्थापित नियमो के अनुसार निकाय बोर्ड के सदन मे विधायक मात्र विशेष आमंत्रित सदस्य होते है | वह कोई बोर्ड की बैठक नहीं बुला सकते है | इन सारी घटनाओ के बाद अध्यक्ष ने ईओ के विरुद्ध मोर्चा खोल दिया है | इस मामले मे प्रभारी मंत्री नन्द गोपाल नंदी ने सख्त रुख अपनाते हुए जिलाधिकारी को निर्देश दिया है | जिसमे अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व को जांच करके कार्यवाही का निर्देश जारी किया गया है |

किसी सरकारी  संस्था मे संवैधानिक पद पर आसीन जनप्रतिनिधि के साथ मनमाने ढंग से कर्मचारी  व्योहार करे | और  प्रशासन द्वारा मामले मे कोई कार्यवाही न किया जाए | इससे आक्रोश व्यापत है | नगर के फूलचंद साहू , लाल चन्द कौशल, हीरालाल गुप्ता , इत्यादि लौगो ने अब इस मामले को लेकर जिलाधिकारी को पत्र भेजा है | जिसमे कहा गया है कि यदि नगर पंचायत की प्रमुख शिकायत पर शीघ्र कार्यवाही न हुई तो नगर पंचायत का एक प्रतिनिधि मण्डल इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री के सामने जाएगा |

रिपोर्ट- अंकित गुप्ता

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY