बोर्ड परीक्षा में नकल माफियां हावी, नहीं हो रही नकलविहिन परीक्षा

0
121


बलिया,ब्यूरो : माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित हाईस्कूल एवं इण्टर की परीक्षा शुरू हो गयी है। नकल माफिया एवं शासन प्रशासन में आंख मिचौली का खेल प्रारम्भ हो गया है। इन दोनों के बीच तू डाल-डाल मैं पात-पात की कहानी शुरू हो गयी है। प्रथम दिन इस खेल में नकल माफिया हाबी रहे। अलबत्ता बोर्ड की कड़ाई के चलते इस बार बाहरी छात्रों की संख्या नहीं दिखी। जिससे हमेशा की तरह गुलजार दिखने वाला शहर या आस पास के इलाको में पता ही नहीं चला की परीक्षा हो रही है, केवल परीक्षा केन्द्रों को छोड़कर सभी परीक्षा केन्द्रों पर बाहर से नकल कराने वालो की संख्या नहीं के बराबर दिखी, लेकिन परीक्षा केन्द्रों के अन्दर नकल की गंगा बही। कुल मिलाकर पहले दिन शासन प्रशासन हांफता नजर आया, वही नकलचियों की बल्ले बल्ले रही. इस बार विभाग की मनमानी एवं गणेश पूजा न कर पाने से अधिकांश विद्यालय परीक्षा केन्द्र बनने से वंचित है।

जिससे कई विद्यालयों में क्षमता से अधिक परीक्षार्थी होने से स्कूल संचालकों को सामने विकट समस्या रही। मजबूरन अनेक विद्यालयो पर परीक्षार्थी जमीन पर परीक्षा देते नजर आए। प्रथम दिन की परीक्षा में शासन प्रशासन फेल रहा, वही शिक्षा माफिया पास रहे द्य इस बार माध्यमिक शिक्षा परिषद से मिले निर्देशों के अनुसार किसी भी केंद्र पर परीक्षार्थियों को जमीन पर बैठा कर परीक्षा लेने पर प्रतिबंध लगाया गया था। आदेश के क्रम में जिला विद्यालय निरीक्षक रमेश सिंह ने भी जिले के सभी 317 परीक्षा केंद्रों के व्यवस्थापकों को इसके लिए कड़े निर्देश दिये है, लेकिन ये आदेश हवा हवाई ही साबित हो रहे है।

रिपोर्ट – संतोष कुमार शर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here