रिश्वत न देने पर जीआरपी सिपाहियों ने ले ली नेशनल खिलाड़ी की जान

0
145

राष्ट्रीय स्तर के तलवारबाजी के खिलाड़ी और 2005 में केरल में तलवारबाजी की अंडर 17 प्रतियोगिता में कांस्य पदक विजेता होशियार सिंह भ्रष्टाचार का शिकार हो गये |

Photo Source - NDTV
Photo Source – NDTV

 

होशियार सिंह अपने परिवार के साथ एक पैसेंजर ट्रेन में सफर कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने अपनी पत्नी और मां को महिला कोच में बिठाया और खुद जनरल कोच में बैठ गए, लेकिन कुछ देर बाद पत्नी की तबीयत बिगड़ने की वजह से उन्हें भी महिला कोच में जाना पड़ा, जहां मौजूद GRP (गवर्नमेंट रेलवे पुलिस) के सिपाहियों ने होशियार सिंह को वहां से जाने के लिए कहा। होशियार सिंह ने अपनी पत्नी की तबीयत ख़राब होने की बात बताई, पत्नी के मुताबिक रेलवे पुलिस के जवानों ने वहां रुकने के लिए होशियार सिंह से दो सौ रुपये मांगे। होशियार सिंह ने जब रुपये देने से मना किया तो दोनों के बीच बहस होने लगी। बात धक्के – मुक्के पर पहुँच गयी और इसी बीच जीआरपी के सिपहोयों के धक्का देने के कारण होशियार सिंह ट्रेन से नीचे गिर गये और तुरंत ही उनकी मृत्यु हो गयी |

जीआरपी सिपाहियों रामविलास और राजेश समेत तीन लोगों के खिलाफ गैर-इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया है, जबकि जीआरपी के अधिकारियों का कहना है कि इस मामले में उसका कोई भी पुलिसकर्मी शामिल नहीं है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

19 − 12 =