जिले भर में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का आयोजन आज

0
116

मैनपुरी(ब्यूरो)– शासन द्वारा संचालित राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों की श्रंखला में 28 फरवरी, 2017 को जनपद में राष्ट्रीय कृमि मृक्ति दिवस का आयोजन किया जायेगा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 आर0 किशन ने बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार पेट के कीडे विश्व व्यापी एवं जन स्वास्थ्य समस्या है, जिसके कारण बच्चों में कृमि संक्रमण से उनकी शारीरिक एवं बौद्धिक वृद्धि पर कुप्रभाव होता है। उ0 प्र0 राज्य में 01 से 19 वर्ष के बच्चों में कृमि संक्रमण औसतन 76 प्रतिशत है के दृष्टिगत् यह कार्यक्रम वर्ष में दो बार आयोजित किया जाता है| जिसमें पेट के कीडों की गोली एल्बेडांजाॅल 400 मिग्रा, जो कि 01 से 06 वर्ष के बच्चों को आंगनवाडी केन्द्र पर कार्यकर्ती केू माध्यम से, 06 से 19 वर्ष (कक्षा 1 से 12 तक) के बच्चों को सरकारी एवं गैर सरकारी शिक्षण संस्थानों में शिक्षकों के माध्यम से एवं इस 06 से 19 वर्ष तक की आयु वर्ग के ऐसे बच्चे जो स्कूल नहीं जाते हैं, को आंगनवाडी कार्यकर्ती के द्वारा बाल विकास केन्द्र पर खिलाई जायेगी।

कार्यक्रम संचालन एवं क्रियान्वयन हेतु जनपद में होर्डिंग्स, बाल पेन्टिंग्स, बैनर, पोस्टर, हैन्डबिल्स आदि तथा क्षेत्रीय कार्यकर्ताओं के माध्यम से व्यापक प्रचार प्रसार करवाया गया है। कार्यक्रम के पूर्ण अनुश्रवण एवं मूल्यांकन हेतु डा0 जी0पी0 शुक्ला, ए0सी0एम0ओ0 (आर0सी0एच0/एन0एच0एम0) को कार्यक्रम अधिकारी नामित करते हुये जनपद स्तरीय अपर/उप मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को ब्लाॅक क्षेत्र आवंटित किया गया है| जिसमें उनके द्वारा सत्र स्थलों का समुचित भौतिक निरीक्षण कर सांयकाल में ब्लाॅक मुख्यालय पर बैठक आयोजित कर इंगित कमियों का निराकरण करने के उपरान्त सायंकाल में जिला मुख्यालय पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में अनिवार्य रुप से उपस्थित रहेंगे। कार्यक्रम के दौरान समेकित सहयोगी शिक्षा एवं बाल विकास विभाग का पूर्ण सहयोग अपेक्षित है। कार्यक्रम में ब्लाॅक स्तर पर कक्षा 1-12 तक के सभी सरकारी एवं प्राईवेट विद्यालयों के प्रधानाध्यापक विद्यालय में उपस्थित रहते हुये पूर्ण सहयोग प्रदान करेंगे।

यह एक महत्वपूर्ण राष्ट्रीय कार्यक्रम है जिसमें विभिन्न विभागों का सक्रिय योगदान आवश्यक है। अतः समस्त उत्तरदायी अधिकारियों/कर्मचारियों से अपेक्षा है कि स्थानीय स्थिति के अनुसार जनसमर्थन हेतु विशेष पहल करते हुये कार्यक्रम के सफल क्रियान्वयन हेतु निर्गत निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित किये जाने की अपेक्षा की जाती है।

रिपोर्ट- दीपक शर्मा
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here