सुल्तानपुर के बेटे आयुष को मिलेगा NATION’s PRIDE AWARD

0
78

लखनऊ(ब्यूरो)- उत्तर प्रदेश के युवा का नाम राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए चयनित होने पर सम्पूर्ण प्रदेश में हर्ष है।
सुल्तानपुर जनपद के निवासी आयुष चतुर्वेदी सुत श्री अनिल चतुर्वेदी को यह पुरस्कार उनके द्वारा किये गए उत्कृट सामाजिक कार्यों व हिंदी साहित्य के दुनिया मे अतुलनीय योगदान एवं उपलब्धियों को देखते हुए दिया जा रहा है।

श्री चतुर्वेदी की उम्र महज 21 वर्ष की है ,उन्होंने सुल्तानपुर के एक संस्थान से स्नातक की पढ़ाई की जिसके बाद उन्हें करीब 4 स्नातक स्तर की डिग्री व 5 डिप्लोमा कोर्स की उपाधियां उनके बौद्धिक स्तर को देखते हुए देश व विदेश की शिक्षण संस्थानों ने दी है।

आयुष ने अपने पिता के आदेशों का अनुपालन करते हुए सुल्तानपुर से बाहर न जा कर भी अपने प्रतिभा के प्रकाश से जो कीर्ति फैलाई उसने देश और प्रदेश की सभी ज़दों को तोड़ कर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी उपस्थिति दर्ज़ करा दी, 2015 में श्री चतुर्वेदी ने दिल्ली के एक विशेष कार्यक्रम में 1:45 मि० लगातार बोल कर भारत का कीर्तिमान स्थापित किया जिसके बाद उन्हें राष्ट्रीय अम्बेडकर वक्ता रत्न की उपाधि से नवाजा गया 2016 में आयुष का चयन देश के 11 प्रतिभावान युवाओं में हुआ जिसमें उन्हें सिंगापुर की धरती पर भारतीय राष्ट्रीय प्रतिभा रत्न से नवाज़ा गया।

सिंगापुर से वापस आते ही श्री चतुर्वेदी ने हिंदी स्वाभिमान यात्रा का बिगुल बजा दिया जिसमें उन्होंने पूरे देश मे घूम घूम कर हिंदी के प्रति लोगों को जागरूक किया फिर हिंदी जनचेतना अभियान ,हिंदी मेरा गौरव जैसे तमाम कार्यक्रमों के रूप में वे हिंदी की सेवा करते रहे।देश की तमाम चर्चित उपाधियों से नवाजे जा चुके श्री चतुर्वेदी को जब इस पुरस्कार की सूचना मिली तो विशेष संवाद के दौरान उन्होंने बताया कि मैं एक फ़क़ीर बिरादरी का सदस्य हूँ जिसमे हर कोई अहंकार , आडंबर और लालसा का फ़क़ीर है| यदि हमारे पास कुछ है तो वो हमारे भावनात्मक संबंध है, मैं इस देश का बेटा हूँ और इस देश को जब भी मेरी जरूरत होगी मैं सेवा के लिए तत्पर रहूँगा।

श्री चतुर्वेदी ने अपनी इस उपलब्धि के विषय पर भी प्रकाश डालते हुए कहा कि ये पुरस्कार देश के 21 लोगों को दिया जाए ग जिसमे अकेले युवक बिरादरी नामक संस्था के दो लोग है एक मैं और दूसरे संस्था अध्यक्ष श्री अभिषेक बच्चन हम दोनों संस्था के दो छोर है वे शिखर है और मैं एक मामूली सा कार्यकर्ता । श्री चतुर्वेदी के मित्रों के अनुसार उनकी उपलब्धियां कोई भी हों पर उनके लिए वो हमेशा आयुष ही रहेंगें।

जानकारी होते ही सभी मे हर्ष का माहौल है जगह जगह लोगो मे उनके स्वागत को ले कर उत्सुकता है प्रदेश के कई इलाकों में इस सूचना के बाद लोगो ने खुशियां जताई ।शुभचिंतकों ने एक दूसरे को मिठाइयां खिलाई ।समाज के प्रबुद्धजनों ने आयुष के उज्ज्वल भविष्य की कामना की है व उन्हें शुभकामनाए दी।

रिपोर्ट- दीपक मिश्रा 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY