नौसेना के सीक्रेट प्रोजेक्ट से जुड़ी तकनीकी जानकारी लीक, रक्षामंत्री ने दिए जांच के आदेश, DCNS के पूर्व अधिकारी नाम आ रहा सामने

0
797

 

The Union Minister for Defence, Shri Manohar Parrikar addressing the Naval Commanders, during the Naval Commanders’ conference, in New Delhi on April 21, 2016.

भारतीय नौसेना फ्रांस की नौसेना के साथ मिलकर अपने प्रकार की दुनिया की सबसे आधुनिक पनडुब्बी बना रहा है, पर भारत के इस सीक्रेट प्रोजेक्ट से जुड़ी तकनीकी जानकारियाँ लीक हो गयी हैं, इस प्रकार की तकनीकी जानकारी का लीक हो जाना देश की सुरक्षा को खतरे में दाल सकता, लीक की जानकारी होते ही रक्षामंत्री ने नौसेना प्रमुख को मामले की जंच के आदेश दिए हैं |

लीक हुए दस्तावेजों पर भारत की नाराज़गी के बाद फ्रांस के राजदूत एलेक्जेंडर जेइगलर ने कहा कि ”फ्रांस मामले को बहुत गंभीरता से ले रहा है, हम यह जानने की कोशिश कर रहे हैं कि लीक हुई जानकारी किस हद तक संवेदनशील है, हम भारतीय एजेंसी के साथ मिलकर पारदर्शिता के साथ मामले की तह में पहुंचने की कोशिश करेंगे |”

भारत फ्रांस की कंपनी DCNS के साथ मिलकर 6 स्कॉर्पीन पनडुब्बी बना रहा है, इनमे से एक क ट्रायल चल रहा है और बाकी 2020 तक नौ सेना में शामिल हो जाएँगी पर पनडुब्बी से जुड़े तकनीकी जानकारी जैसे फ्रीक्वेंसी, गहराई में आवाज़ इलेक्ट्रोमैग्नेटिक फील्ड आदि के लीक हो जाने से भारत की सुरक्षा तैयारियों को बड़ा झटका लगा है |

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार यह बात सामने आ रही है कि यह डाटा DCNS के एक पूर्व अधिकारी ने लीक किया है, नौसेना के सूत्र कह रहे हैं कि ”स्कॉर्पीन पनडुब्बी में जो लीक की बात सामने आई है वह बहुत गंभीर नहीं है, यह पुरानी चीज है और बहुत कुछ लीक नहीं हुआ है |” लेकिन रक्षा मंत्रालय के सूत्रों का कहना है कि ”हमें अब तक पक्के तौर पर यही नहीं पता है कि कौन-कौन सी जानकारी लीक हुई है और यह हमारे लिए कितना नुकसानदेह है |” मंत्रालय डीसीएनएस से नाराज है कि उसने जानकारी बांटने में देरी की |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here