आलाधिकारियों की नाक के नीचे खुली अंग्रेजी शराब की दुकान

0
39

रायबरेली (ब्यूरो) : जिलाधिकारी कार्यालय एवं विकास भवन से सटाकर खोली गयी अंग्रेजी शराब की दुकान आला अधिकारियों को चिढ़ा रही है। यह दुकान मंदिर के ठीक पीछे एवं मस्जिद से मात्र 50 मीटर दूर स्थित है।

हाइवे के किनारों से शराब की दुकानों को हटाने का आदेश सरकार की गले की फास बनता दिख रहा है। जहां कस्बों एवं मोहल्लों के अंदर इन दुकानों का जोरदार विरोध हो रहा है वहीं आबकारी विभाग भी दुकानों को मोहल्लों एवं कस्बों के अंदर स्थापित कराना चाहता है। जिससे शराब दुकानदारों की अच्छी बिक्री हो और आबकारी विभाग की जेब गर्म होती रहे।

सदर तहसील जहाँ तहसीलदार एवं एसडीएम सदर बैठते हैं, राही ब्लाक मुख्यालय एवं बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय और विकास भवन के ठीक बगल से गुजरने वाली सड़क पर जिस तरफ विकास भवन का निकास भी है। यही नहीं यहां स्थित शिवमंदिर से मिलती हुई नयी अंगे्रजी शराब की दुकान खोल दी गयी है। यहां स्थित विभिन्न कार्यालयों के लगभग एक हजार कर्मचारियों का इधर से आवागमन रहता है। तहसील दिवस के मौके पर जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारी ब्लाक मुख्यालय आते हैं, लेकिन उन्हें यह शराब की दुकान दिखायी नहीं देती। जिसमें बाकायदा अंदर बैठकर शराब पीने की व्यवस्था की गयी हैै। या तो जिले के आलाधिकारियों को शराब की दुकानों के खोलने की शर्ते एवं अनुबंध का ज्ञान नहंी है अथवा वह किसी प्रभाववश इसे अनदेखा कर लाइसेंस धारक को लाभ पहुंचाने की मंशा पाले हुये हैं।

रिपोर्ट – राजेश यादव

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY