कश्मीर में लौटी शांति, भारत सरकार ने तेज़ की अलगाववादी नेताओं पर कार्यवाही, गिलानी के बेटे को भेजा नोटिस…

0
32358
police-arrest-Syed-Ali-Gilani
                                                              Representative Image

करीब दो महीने बाद कश्मीर ने रहत की सांस लेनी शुरू की है और कश्मीर में कई इलाकों से कर्फ्यू हटा लिया गया है, जल्द ही गृहमंत्री राजनाथ सिंह एक सर्वदलीय डेलीगेशन के साथ कश्मीर का दौरा करेंगे, इसी बीच सरकार ने कश्मीर के अलगाववादी नेताओं और हिंसा भड़काने वाले उनके साथियों की लिस्ट तैयार की है और तेजी से उस पर कार्यवाही कर रही है |

भारत सरकार कि खुफिया एजेंसीज इन नेताओं के आतंकी कनेक्शन से लेकर इनके बैंक खातों तक की जांच कर रहे हैं, इसी सिलसिले में कश्मीर के मुख्य अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी के बेटे नईम को राष्ट्रीय जाँच एजेंसी NIA ने नोटिस जारी किया है और हाजिर होने कहा है , NIA को अपनी जांच के दौरान सबूत मिले हैं कि आतंकी संगठन जमात-उद-दावा कने घटी में हिंसा के दौरान हिंसा भड़काने के लिए कश्मीर के कुछ खतों में पैसे भेजे हैं और इसी जांच के तहत NIA ने गिलानी के बेटे नईम को तलब किया है |

NIA ने नईम को सोमवार को पेश होने के लिए कहा था लेकिन वह पेश नहीं हुए, जिसके बाद NIA ने सख्त हिदायत देते हुए उन्हें मंगलवार को पेश होने को कहा है | घटी में हिंसा फ़ैलाने के लिए आतंकी संगठनों द्वारा पैसा भेजे जाने की सूचना मिलने के बाद से ही NIA ने घाटी के बैंक खातों की जांच शुरू कर दी थी और करीब दो दर्जन बैंक खतों को संदिग्ध पाया है |

NIA के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार कई खतों में पैसे जमा हुए हैं और फिर तुरंत निकाल लिए गए हैं पर और ऐसा करने वालों में खाते के मालिक के अलावां किसी और का ही हाँथ है |

नईम कई साल तक पकिस्तान में डॉक्टर के तौर पर काम कर चुके हैं, और कुछ साल पहले ही भारत वापस आये हैं हुर्रियत नेताओं के मुताबिक़ ये भारत सरकार की बचकाना हरकत है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here