निखिल प्रियदर्शी को नहीं मिली जमानत, यौन उत्पीड़न का है मामला

0
38

पटना(ब्यूरो)- ऑटोमोबाइल कारोबारी निखिल प्रियदर्शी को अपनी प्रेमिका सुरभि जयदेवा से शादी करने के लिए अभी और इंतजार करना पड़ सकता है| निखिल की जमानत याचिका को विशेष अदालत ने खारिज कर दिया है| हालांकि धोखाधड़ी के एक अन्य मामले में निखिल प्रियदर्शी को दूसरी अदालत से जमानत मिल गयी है| लेकिन फिर भी अभी उसे अपने दिन जेल में ही गुजारने पड़ेंगे|

गुरुवार को हुई सुनवाई के बाद अनुसूचित जाति एवं जनजाति के विशेष न्यायाधीश अखिलानंद दूबे की अदालत ने निखिल प्रियदर्शी की जमानत याचिका को खारिज कर दिया| कोर्ट ने पिछले हफ्ते बुधवार, 21 जून को खिल प्रियदर्शी और सुरभि जयदेवा के संयुक्त आवेदन पर सुनवाई के बाद शादी की अनुमति देने से इनकार कर दिया था| कोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि बिना किसी प्रावधान के इस प्रकार किसी आरोपी को शादी करने की अनुमति या जेल से मुक्त करने का आदेश नहीं दिया जा सकता है|

वहीँ सुरभि जयदेव द्वारा निखिल के खिलाफ पटना के बुद्धा कॉलोनी थाने में दर्ज कराये गए एक अन्य मामले में आज उसे (निखिल को) जमानत मिल गयी है| इस मामले के सामने आने के शुरूआती दिनों में सुरभि ने निखिल और अन्य के खिलाफ अपनी पहचान उजागर करने के लिए केस दर्ज कराया था|

गौरतलब है कि विगत 7 जून को पटना हाईकोर्ट ने निखिल प्रियदर्शी के पिता और भाई को बेल दे दी थी| लोअर कोर्ट में निखिल की सुरभि से शादी करने और दोनों के समझौते का पिटीशन स्वीकार होने के आधार पर पिता कृष्ण बिहारी और भाई मनीष प्रियदर्शी को बेल मिली थी| बता दें कि निखिल प्रियदर्शी 17 मार्च से बेउर जेल में बंद है| उसे पटना एसएसपी मनु महाराज ने लंबे अनुसंधान के बाद उत्तराखंड से गिरफ्तार किया था|

रिपोर्ट- राहुल कुमार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY