जो भी विकास कार्य कराये जाये उसमें किसी भी स्तर पर गुणवत्ता से समझौता न किया जाये : गिरीश चन्द्र

0
96

मैनपुरी (ब्यूरो) वर्ष 2017-18 की जिला योजना की सरंचना को अन्तिम रूप देते हुए प्रभारी मंत्री गिरीश चन्द्र यादव ने स्पष्ट तौर पर कहा कि अवमुक्त धनराशि से जो भी विकास कार्य कराये जाये उसमें किसी भी स्तर पर गुणवत्ता से समझौता न किया जाये। सभी कार्यदायी संस्थायें सुनिश्चित करें कि निर्माण कार्य पूर्ण गुणवत्ता के साथ समय से पूरे हो। सभी अधिकारी ईमानदारी के साथ जन कल्याणकारी योजनाओ का लाभ पात्रों को पहुंचायें, लगन एवं निष्ठा के साथ अपने दायित्वो का निर्वहन करें, मेहनत से कार्य कर जनता की समस्याओ का समाधान करें ताकि जनता के बीच अच्छा सन्देश पहंचे। प्रदेश सरकार ने बिना किसी भेदभाव के हर वर्ग के सर्वागीण विकास हेतु योजनायें संचालित की है । प्रदेश के नगर विकास, अभाव सहायता एंव पुनर्वास राज्यमंत्री गिरीश चन्द्र यादव ने जनपद के सर्वागीण विकास हेतु सड़क,विजली, पुल शिक्षा, महिलाओं को आत्म निर्भर बनाने हेतु, किसानों के उत्थान हेतु ग्रामीण पेयजल, पशुपालन ,दुग्ध विकास, अनुसूचित जाति, जन-जाति उत्थान, लघु एवं सीमान्त कृषकों, भूमि विकास एवं जल संसाधन, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य आदि के लिए 240 करोड़ 05 लाख रू0 की वर्ष 2017-18 हेतु जिला योजना को अन्तिम रूप देते हुए व्यक्त किये।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार जनपद के विकास के लिए कटिबद्ध है और इसके लिए पर्याप्त मात्रा में धनराशि का प्राविधान किया गया है। प्रभारी मंत्री ने लघु एवं सीमान्त कृषकों की उत्पादता बढ़ाने हेतु 170 लाख रू. का परिव्यय स्वीकृत किया ,इस योजना में 2000 नि;शुल्क बोरिंग कराये जायेंगें जिसमें 500 बोरिंग अनुसूचित जाति के लाभार्थियों के लिए प्रस्तावित है। पशु चिकित्सा एवं स्वास्थ्य तथा निरोग निदान सेवाओं के सुधार एवं विस्तार हेतु 140.02 लाख, कृतिम गर्भाधान द्वारा पशु प्रजनन सुधार एवं विस्तार हेतु 30 लाख ,सूकर प्रजनन प्रक्षेत्रों के विस्तार एवं सुदृढ़ीकरण हेतु 6 लाख, दुग्ध संघों एवं समितियों के सुदृढ़ीकरण एवं विस्तार हेतु 125 लाख, दुग्ध उत्पादन में वृद्धि हेतु 05 लाख, आटोमेटिक मिल्क कलेक्शन यूनिट हेतु 32.50 लाख, मध्यम गहरे 150 नलकूपों के निर्माण हेतु 229.50 लाख ,गहरे 10 नलकूपों हेतु 17.80 का प्राविधान किया गया है। ग्राउण्डवाटर चार्जिंग,चैकड्ेम की स्थापना हेतु सभी विकास खण्डों मे वर्षा का जल उपयोग करके सिंचाई के साथ भूगर्भ जल रिचार्ज,नदी नालों पर 08 चैकड्म के निर्माण हेतु 200 लाख रू. का प्राविधान किया गया है। प्रभारी मंत्री ने मनरेगा के अन्तर्गत गरीब एवं बेरोजगारों के लिए रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से 4262.39 लाख़, नवीन ग्रामीण सड़कों के निर्माण हेतु 1218.60 लाख एंव जीर्ण-शीर्ण मार्गो के पुर्ननिर्माण हेतु 372.05 लाख, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों की स्थापना हेतु 90 लाख, नवीन प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों की स्थापना हेतु 60 लाख, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के भवन निर्माण हेतु 77 लाख, प्लास्टिक सर्जरी/वर्न यूनिट के भवन निर्माण हेतु 118.94 लाख, नगरीय पेयजल के अन्तर्गत जहा पीने के पानी की गम्भीर समस्या हेै,वहां 300 नये हैण्डपम्पों की स्थापना एवं 185 रिबोर हैण्डपम्पों हेतु 247.36 लाख, ग्रामीण पेयजल के अन्तर्गत प्रस्तावित पेयजल योजना हेतु 1500.00लाख, स्वच्छ शौचालय में 15000 शौचालयों के निर्माण हेतु 1800 लाख का प्राविधान किया गया है। इन्दिरा आवास योजना के अन्तर्गत 4427 प्रधानमंत्री आवासों के निर्माण हेतु ,अनुसूचित जाति ,जनजाति के लाभार्थियो हेतु 2656 आवासो के निर्माण हेतु 5524.90 लाख, बर्ष 2016-17 के शेष 294 आवासो के निर्माण हेतु लाभार्थियों को द्वितीय किश्त हेतु 403.67 लाख का प्रस्ताव सम्मिलित किया गया हैै। अनुसूचित जाति,पिछड़ी जाति कल्याण हेतु 170-170 लाख,अल्प संख्यक कल्याण हेतु 54 लाख,सामान्य वर्ग के कल्याण हेतु 290 लाख, समाज कल्याण में संचालित विभिन्न येाजनाओ हेतु 2000 लाख के बजट का प्राविधान किया गया है।

प्रभारी मंत्री ने अनुसूचित जाति,जनजाति कृषको की आय में वृद्धि के उदद्ेश्य से कृषको के यहां अमरूद,पपीते के उद्यान स्थापना, राजकीय औद्यानिक मिशन योजना के तहत सभी विकास खण्डो में आंवला,अमरूद,पपीता के नवीन उद्योगो की स्थापनां,साग-भाजी फूल,मसाला की खेती आलू के बीज उत्पादन हेतु 109 लाख, प्राथमिक शिक्षा हेतु 178.44 लाख, माध्यमिक शिक्षा हेतु 513.00 लाख, प्राविधिक शिक्षा हेतु 150.00 लाख, ग्रामीण अंचलो में खेलकूद को बढ़ावा देने हेतु 02.25 लाख, क्रीडा प्रतिष्ठानों के निर्माण हेतु 150.00 लाख, परिवार कल्याण के अन्तर्गत संस्थागत प्रसव,महिला,पुरूष नसबन्दी कैम्पों के आयोजन हेतु 60 लाख, पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से आंेछा में च्यवन ऋषि मन्दिर,मारकण्डेय आश्रम, शीतला देवी मन्दिर,समान पक्षी बिहार, अछईपुर स्थित इच्छेश्वर धाम के विकास हेतु 40 लाख, महिला कल्याण हेतु 780 लाख रू. परिव्यय अनुमोदित किया है।

जिला योजना के परिव्यय पर विस्तार से जानकारी देते हुए जिलाधिकारी यशवंत राव ने बताया कि ग्राम पंचायतों, जिला पंचायतों, नगर पालिका, नगर पंचायतों के विकास कार्यक्रमों को शामिल करते हुए योजना की संरचना की गई है। प्रस्तावित योजना में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार, कृषक हितों के क्षेत्र तथा पेयजल ,महिला उत्थान,गरीबी उन्मूलन सहित अन्य बुनियादी अवस्थापना विकास एवं समाज कल्याण कार्यक्रमों के क्षेत्र में उल्लेखनीय एवं दूरगामी परिणाम देने वाले प्रयासों का समावेश किया गया है।

इस अवसर पर सदस्य विधान सभा भौंगांव,सदर रामनरेश अग्निहोत्री,राज कुमार उर्फ राजू यादव, सदस्य विधान परिषद अरविन्द यादव, मुख्य विकास अधिकारी विजय कुमार गुप्ता सहित जिला योजना समिति के सम्मानित सदस्य व संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी बी.एस.यादव ने किया।

रिपोर्ट – दीपक शर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here