नहीं रुक रही पत्रकारों के साथ दुर्व्यवहार की घटनाएँ

0
72

सोनभद्र(ब्यूरो)- पिपरी इंस्पेक्टर द्वारा पत्रकार के साथ किये गये दुर्व्यव्हार को लेकर आज रिजर्व पुलिस लाइन चुर्क में बड़ी संख्या में पत्रकारो ने पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर रोष व्यक्त किया और पत्रकारों के साथ होने वाले दुर्व्यवहार पर रोक लगाने के साथ दोषी इंस्पेक्टर व सिपाहियों के खिलाफ जांच कर कार्यवाही की मांग की तथा एसपी को ज्ञापन दिया ।

पत्रकारों ने कहा कि भविष्य में इस तरह की पुनरावृत्ति न होने पाये। पुलिस व पत्रकारों का सम्बन्ध चोली और दामन का होता जो हमेशा से चला आ रहा जिसकी अपनी एक मर्यादा है इसलिए व्यवहार एक दूसरे के प्रति अच्छा होना चाहिए । रेनुकूट पुलिस द्वारा किये गए दुर्व्यव्हार पर पत्रकार अजित कुशवाहा ने बताया कि पिपरी थानाध्यक्ष वीरेंद्र विक्रम सिंह द्वारा उन्हें गाली-गलौज दिया गया था जबकि बीजपुर के पत्रकार ने बताया कि थानाध्यक्ष द्वारा उनके साथ भी गलत व्यवहार किया गया। जब इस बावत क्षेत्राधिकारी पिपरी से मोबाईल पर बात की गयी तो क्षेत्राधिकारी पिपरी का बयान भी चौकाने वाला था ।

इस बयान को सुनने के बाद पुलिस अधीक्षक ने पूरे मामले की जांच एएसपी नक्सल डॉ. अवधेश सिंह को दिया । जिसके बाद दोनों पत्रकारों का बयान एएसपी कार्यालय में दर्ज कराया गया ।

इस मौके पर शांतनु विश्वास, जितेंद्र गुप्ता, राकेश चौबे, ओम प्रकाश गुप्ता, हरिओम पांडे, रमेश यादव, उपेंद्र तिवारी, अनुप श्रीवास्तव, विधु शेखर मिश्रा, अंशुमान पांडेय, शशि चौबे, संजय केसरी, कृष्ण मुरारी शुक्ला, राजकुमार गुप्ता, अनुराग पांडे, घनश्याम पांडे, संतोष मिश्रा, ख्वाजा खान, विनोद धर, मुमताज खान, जयनाथ मौर्य, संतोष जायसवाल, अखिलेश सिंह, जमीर अहमद, मुजाहिद खान, आनंद चौबे, शैलेश भानू, दिलीप श्रीवास्तव, अंशु खत्री, डॉक्टर ए0 के0 गुप्ता, अशोक चौबे, विष्णु गुप्ता, मस्तराम मिश्रा, राजकुमार, कृष्ना उपाध्याय, अजीम खान, ऋषि झा, प्रशांत सिंह, अमर नाथ शर्मा आदि लोग उपस्थित थे ।

रिपोर्ट – ज़मीर अंसारी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY