प्राथमिक विद्यालयों में नही मिल रहा मिड डे मील

0
88

मऊरानीपुर(झाँसी )– मैडम जी मुझे भूख लग रही है आज खाना नही मिलेगा हमे। जबाब मे मैडम ने लाचारी जताते हुए कहा कि कुछ देर रूकों छुटटी कर रहे है घर पर खा लेना। उक्त वाक्या मऊरानीपुर के ढिमलौनी प्राथमिक विद्यालय का है। जहाॅ बुधवार की दोपहर देखनें को मिला। उक्त विद्यालय मे 3 शिक्षक तैनात है , जिसमे दो शिक्षकों की चुनाव मे डयूटी लगायी गयी है । विद्यालय मे 26 बच्चो का नामांकन है जिसमे से 10 बच्चें ही उपस्थित थे। मात्र 10 बच्चों को भी मिडडें मील का मध्यांह भोजन प्राप्त नही हुआ। ये उक्त वाक्या प्राथमिक विद्यालयों मे इसी तरह आये दिन देखने को मिलता है । कहीं बच्चों से सब्जी कटवाने का काम लिया जाता है तो कहीं अनाज विनवाया जाता है। फिर भी उन्हे मिडडें मील से बचिंत रहना पडता है। जब मीडिया के लोगों ने छात्रो सें मिडडें मील के बारे मे जानकारी ली। तो उन्होने बताया कि बुधवार के दिन हमे कभी दूध नही मिलता है। तथा बुधवार के दिन मिडडें मील ईन्चार्ज शिक्षक राशन सामग्री न रख जाने से मिडडें मील नही बना। जिससे हम बच्चे भूखे बैठें है । एक मात्र शिक्षिका के सहारे विद्यालय संचालित किया जा रहा है।
रिपोर्ट – रवि परिहार

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY