नए बजट में भी नई ट्रेनों के लिए जगह नहीं, हम रेलवे को राजनीतिक स्वार्थ के लिए प्रयोग नहीं करेंगे : रेल मंत्री

0
305

suresh prabhu1

रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने साफ़ कर दिया है कि वह रेलवे को तुष्टिकरण की राजनीति से पूरी तरह दूर रखेंगे और मौजूदा स्थिति को देखते हुए 2016 – 17 के रेल बजट में भी किसी नई ट्रेन की घोषणा नहीं करेंगे | इससे पहले 2015-16 के रेल बजट में भी प्रभु ने किसी नई ट्रेन किघिश्ना नहीं की थी |

प्रभु ने कहा “देश के प्रमुख रेल मार्गों पर पहले से ही बहुत अधिक व्यस्तता है, उच्च रेल मार्गों को तो उनकी क्षमता से 100 से 200 फीसदी अधिक तक उपयोग किया जा रहा है, मौजूदा हालातों में राजधानी, दुरंतो और शताब्दी जैसी मुख्य ट्रेनों को भी समय से चला पाना मुश्किल साबित हो रहा है ऐसे में नई ट्रेनों को चलाना हादसों को खुला न्यौता देने जैसा होगा | हम नई ट्रेनों को चलाने के बजाय मौजूदा ट्रेनों में कोच बढ़ाकर रेलवे को सही ट्रैक पर लाने की कोशिश कर रहे हैं |

उन्होंने कहा “नए बजट में भी नई ट्रेनों को कोई तवज्जो नहीं दी जाएगी, हमारा पूरा द्या अधिक व्यस्तता वाले मार्गों पर तीसरी और चौथी लाइन बिछाने में होगा ताकि ट्रेनें सही समय से चल सकें और नई ट्रेनों के चलने के लिए जगह बन सके |”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here