पटहेरवा थानाक्षेत्र का हल्का नंबर चार बना चोरों की शरण स्थली

कुशीनगर (ब्यूरो) पटहेरवा थानाक्षेत्र का हल्का नंबर चार चोरों की शरण स्थली बन गया है। बीते डेढ़ माह में एक दर्जन से अधिक चोरी की घटनाएं घटित हुई हैं। किसी भी मामले का पर्दाफाश नहीं हो सका है। लगातार घटित हो रही चोरी की घटनाएं, जहां पुलिस की कार्य प्रणाली पर प्रश्न चिह्न खड़ा कर रही हैं। बीते तीन मई की रात्रि चोरों ने जौरा बाजार में भगवान वर्मा, गुड्डू बर्नवाल व उपेंद्र प्रजापति की दुकान का ताला काट कर नकदी व सामान सहित हजारों रुपये की चोरी की। इससे पूर्व भी कृष्णदेव लाल श्रीवास्तव की सोलर बैट्री, अवनीश पांडेय के ट्रैक्टर की बैट्री, मुन्ना माली, मनौव्वर, रामप्रवेश यादव के दुकान में भी चोरों ने हाथ साफ किया। 10 मई की रात क्षेत्र के चमन चौराहे पर खड़े विरेंद्र गुप्ता व प्रदीप के ट्रैक्टर की बैट्री चोर खोल ले गए। इसके अतिरिक्त आधा दर्जन टुल्लू पंप, साइकिल आदि भी चोरी हुई है। पुलिस निष्क्रियता का उदाहरण शुक्रवार की देर शाम जौरा बाजार में सामने आया। दो मोटरसाइकिल सवार बदमाशों ने एक बंगाली चिकित्सक पर पिस्टल तान दिया। लोगों ने विरोध किया तो भाग चले। इन सभी घटनाओं की लिखित सूचना थाने में दी गई पर खास बात यह रही कि किसी भी मामले को दर्ज नहीं किया गया है।

इस सन्दर्भ में सी ओ जनार्दन का कहना है कि एक दर्जन चोरी की घटनाओं का दर्ज नहीं होना गंभीर बात है। पीड़ितों को भी जागरूक होना पड़ेगा। यदि थाने पर मुकदमा दर्ज नहीं हुआ तो इसकी सूचना मुझे भी दी जानी चाहिए। मैं इस मामले को देखूंगा। क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाकर लोगों को सुरक्षा प्रदान करना पुलिस का कर्तव्य है। लापरवाही मिलने पर कार्रवाई होगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here