बढ़ते तापमान से सूख रहे हलक, दो वर्षों से जलापूर्ति व्यवस्था ध्वस्त

0
164


चेरिया बरियारपुर / बेगूसराय : एक ओर सरकार अपने सात निश्चय का ढिंढोरा पीटकर विकास के नारे को बुलंद करने में जुटी है, वहीं क्षेत्र के बिक्रमपुर गांव में सौरचालित संयंत्र का बुरा हाल है |

पंचायत के जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीण इसकी शिकायत विभाग से कई बार किए हैं, लेकिन विभाग अपनी मदमस्त चाल में सरकार के संकल्प नए योजनाओं के धुन में पूराने संयंत्र को भुला बैठा है, जबकि ग्राम पंचायत के मुखिया गोपाल कुमार सिंह ने पंचायत समिति की बैठक में इस संयंत्र के बाबत सवाल उठाए थे | जिसमेें विभाग के एसडीओ ने समाधान का अश्वासन दिया था, लेकिन महीनों बीत जाने के बाद भी इस संयंत्र से एक बूंद पानी नहीं निकल पाया है |

बताते चलें लगभग 26 लाख की लागत से गांववासियों के बीच शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए चार वर्ष पूर्व सौरचालित संयंत्र लगाया गया था, जिसके लिए चार सौ फीट जमीन के नीचे से पानी निकल कर फिल्टर कर शुद्ध पेयजल मुहैया कराए जाने लगा, लेकिन इस पर अज्ञात चोरों की नजर लग गई |

चोरों द्वारा संयंत्र के सोलर प्लेट की चोरी किए जाने के पश्चात से संयंत्र मृतप्राय हो गया, संयंत्र के ऑपरेटर भी गायब हैं. पंचायत के मुखिया बताते हैं कि विभाग से लगातार संपर्क बनाए हुए हैं. हर बार एक महीने में ठीक कराने की बातें कर भूला जाते हैं, कार्यपालक अभियंता से लेकर उनके अधीनस्थ अधिकारी कानों पर जूं नहीं रेंग रहा है |

क्या कहते हैं अधिकारी
विभाग के एसडीओ राजेश्वर राम बताते हैं कि इस बाबत जानकारी विभाग के मीडिया प्रभारी या कार्यपालक अभियंता दे सकते हैं. उस समय हम यहां नहीं थे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here