पिछले दो वर्षों में क्या कभी आपने सुना मोदी सरकार ने पैसे खाए : पीएम मोदी

0
490

 

CjWgLdpVAAAVsAN

केंद्र सरकार के दो वर्ष पूरे होने पर यूपी के सहारनपुर में विकास रैली को संबोधित करते हुए देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि दो वाढ पहले देश में हर तरफ निराशा का माहौल था, अक्सर ही भ्रस्टाचार की ख़बरें आती थीं बड़े – बड़े नाम इसमें लिप्त पाए जाते थे और आज दो साल बाद देश का माहौल बदल गया है देश में उम्मीद जगी है नौजवान विकास की ओर बढ़ रहा है और विकार ही सारी समस्याओं का समाधान है बाकी बातें तो वोट बैंक के ;लिए होती हैं |
प्रधानमंत्री ने कहा, क्या दो वर्षों में आपने कभी सुना है कि मोदी सरकार ने पैसा खाया है ? विरोधियों ने कभी ये मुद्दा नहीं उठाया, लाखों लोगों के बीच खड़े होकर हिसाब देने की हिम्मत किसी में नहीं थी |

प्रधानमंत्री के भाषण की कुछ खास बातें…

1. स्वच्छ भारत अभियान को देशवासियों ने अपना लिया है, देश का बच्चा बच्चा सफाई को लेकर जागरूक हो गया है, यह अभियान पूरी तरह से गरीबों को समर्पित है, गंदगी से गरीब बीमार होता है और उसका रोजगार बंद हो जाता है और खर्चे बढ़ जाते हैं |
2. चिकित्सकों से अनुरोध किया कि हर महीने की 9 तारीख को प्रसूता माताओं को डॉक्टर निशुल्क इलाज मुहैया कराएँ, चिकित्सा के आभाव में बड़ी संख्या में महिला की मौत हो जाती है |
3. चिकित्सकों के रिटायरमेंट की उम्र अब 65 वर्ष की जाएगी जल्द ही कैबिनेट में यह फैसला पास होगा |
4. पिछले दो वर्षों में हमने उन कार्यों पर सबसे अधिक ध्यान दिया है जो गरीबी से लड़ाई लड़ने की ताकत दें |
5. हमारी सरकार की हमेशा से यही कोशिश रही है कि राज्यों को ताकतवर बनाया जाएँ, ताकि सरकारें राज्य की ज़रुरत के अनुसार जनता की भलाई के लिए विकास कर सकें | पहले 65 प्रतिशत धन केंद्र के पास और 35 प्रतिशत राज्यों के पास होता था | हमने 65 प्रतिशत पैसा राज्यों को दिया और केंद्र के पास सिर्फ 35 प्रतिशत रखा |
6. हमने ग्राम पंचायतों को 2 लाख करोड़ रुपये देने की योजना बनाई है। केंद्र सरकार की ओर से हर वर्ष कहीं 80 लाख रुपये कहीं एक करोड़ रुपये की धनराशि ग्राम पंचायतों में पहुंच रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि इसका मुख्य मकसद गांवों का विकास करना है। सरकार ने उन योजनाओं को हाथ लगाया है जिससे गरीबों के जीवन में बदलाव आएगा।
7. गन्ना किसानो के 14 हज़ार करोड़ की बकाया राशी का अलग-अलग योजनाओं के माध्यम से भुगतान कराया |
8. हमने 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने का संकल्प लिया है, इसके लिए साइल टेस्टिंग के जरिये वैज्ञानिक तरीके से जमीनों के रखरखाव कराया जा रहा है |
9. पानी के संकट से निपटने के लिए हमने राज्य सरकारों से बात की है कि इस वर्ष बरसात के पानी का अधिक से अधिक संचय करें |
10. पहले उसे ही मुआवजा मिलता था जिसकी आधी फसल ख़राब होती थी हमने इस सीमा को घटाकर एक तिहाई कर दिया |
11. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खेत से फसल काटकर रखी हो और इसी समय प्राकृतिक आपदा आ गई उस स्थिति में भी उसको बीमा योजना का लाभ मिलेगा।
12. उज्‍जवला योजना का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि क्या गरीबों को लकड़ी के चूल्हे पर खाना बनाते हुये जिंदगी गुजारनी पड़ेगी। उन्होंने कहा कि देश के एक करोड़ से अधिक परिवार ने रसोई गैस की सब्सिडी छोड़ दिया है। पिछले वर्ष ही 3 करोड़ लोगों को गैस का कनेक्शन दे दिया गया है और आने वाले समय में पांच करोड़ लोगों को दिए जाने का लक्ष्य रखा गया है। इतना बड़ा निर्णय पिछले 50 वर्षों में किसी भी सरकार ने नहीं लिया है।

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY