देर तक नही पहुंचे बीएलओ

0
104

रायबरेली (ब्यूरो)- जिलाधिकारी के सख्त निर्देशों के बावजूद बूथों की सफाई व्यवस्था पर स्थानीय प्रशासन के द्वारा ध्यान नही दिया गया है। 182 सरेनी विधानसभा क्षेत्र के मतदेय स्थल 286 डकौली प्राथमिक स्कूल मे शनिवार को 11 बजे से ताला बन्द रहा। स्कूल मे बीएलओ बिन्देश्वरी मौजूद नही थी। बच्चों की छुट्टी होने के चलते अध्यापक भी स्कूल से नदारद रहे,जबकि शिक्षकों को स्कूल मे रहना है,लेकिन रेलकोच से सटे डकौली प्राथमिक स्कूल के शिक्षकों के ऊपर अधिकारियों का आदेश कोई मायने नही रखता है।

शिक्षकों के न होने के चलते बीएलओ बिन्देश्वरी भी निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्य के लिये स्कूल नही पहुंची। फोन पर पूछने पर पता चला कि अभी वो घर पर हैंै। समय मिलते ही स्कूल पहुंच जाऊंगी। इसके अलावा डकौली प्राथमिक स्कूल के गेट पर बडी बडी घास व घूरा आदि सफाई व्यवस्था को मुंह चिढाने के लिये पर्याप्त है। वहीं पूर्व माध्यमिक विद्यालय लालगंज मे बूथ दिवस संबंधी व्यवस्था चाक चैबन्द रही।

स्वयं प्रधानाचार्य कृष्ण शंकर मिश्रा के द्वारा विद्यालय मे बूथ दिवस का बैनर लगाकर मतदाताओं को जागरूक करने का सराहनीय प्रयास किया गया है। बीएलओ विमला,इन्द्रमती,सुनीता पूरे समय मौजूद रही।इस स्कूल को निर्वाचन आयोग के द्वारा माडल बूथ भी बनाया जा रहा हैंनायब तहसीलदार राम किषोर व लेखपाल मनबोध ने भी पूर्व माध्यमिक विद्यालय पहुंचकर बूथ स्थल का निरीक्षण किया है। जिसमे सफाई कर्मी के द्वारा सफाई न किये जाने का मामला प्रकाश मे आया है।

बताया गया है कि पिछले छः माह से सफाई कर्मी नही आता है। बिजली,पेयजल,रैम्प,शौचालय आदि सही पाये गये। इसके अलावा नायब तहसीलदार के द्वारा दतौली,अम्बारा पश्चिम,पीजी कालेज,इंटर कालेज,चिकवाही स्कूल,रेलकोच बूथ का भी निरीक्षण किया गया है। वहीं एसडीएम के द्वारा खीरों व तहसीलदार के द्वारा सरेनी के बूथों का निरीक्षण किया गया है।
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY