निरीक्षण में अनुपस्थित चिकित्सकों को नोटिस

0
67

रायबरेली। मुख्य चिकित्साधिकारी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शिवगढ का औचक निरीक्षण किया। चिकित्सालय पर अधीक्षक, रामशंकर कोठार, डा0 एल0पी0 सोनकर चिकित्सा अधिकारी, डा0 पूनम शर्मा, श्रीमती गायत्री एन0सी0डी0 काउन्सलर को छोड़कर सभी अधिकारी व कर्मचारी संविदा, नियमित उपस्थित पाये गये। डा0 फराह नाज, चिकित्सक माह जून, 2016 से बिना किसी सूचना के अनुपस्थित थे। जबकि डा0 अशोक रावत 31 जनवरी 2017 से अनुपस्थित चल रहे है। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अन्तर्गत नियुक्ति चिकित्सक डा0 अनिल सिंह के 11 दिन बाद उनकी उपस्थिति के हस्ताक्षर उपस्थिति पंजिका पर पाये गये।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने एनसीडी क्लीनिक, एक्सरे कक्ष, टीबी कक्ष, डेªसिंग रूम, प्रसव कक्ष तथा वार्ड का निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय तक तीन एक्सरे हुए थे, 02 टीबी के मरीजो का बलगम परीक्षण किया गया था। 13 शुगर बीपी के मरीज देखे गये तथा 9 मरीजो की काउसलिंग की जा चुकी थी तथा 01 लाभार्थी प्रसव उपरान्त भर्ती पाया गया। प्रसव कक्ष में टाइल्स नहीं थे, पर्दा नहीं था, सक्शन मशीन खराब थी व अन्य जगह अस्पताल में मरम्मत की आवश्यकता पाई गई। जिसके लिये अधीक्षक को अतिशीघ्र मरम्मत व साज सज्जा के कार्य रोगी कल्याण समिति से कराये जाने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने अनुपस्थित पाये गये डाक्टर अशोक रावत को नोटिस जारी किया। डा0 फराह नाज, संविदा चिकित्सक के प्रकरण को जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में रख कर बर्खास्त करने का निर्णय लिया गया है।
strong>रिपोर्ट – राजेश यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY