मोदी के नेतृत्व में भाजपा करा सकती है राम मंदिर का निर्माण, मुस्लिम भी करेंगे समर्थन- शिवसेना

0
348

मुम्बई- शिवसेना ने आज कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भारतीय जनता पार्टी अब अयोध्या में विवादित राम मंदिर बनाने की अपनी योजना पर आगे बढ़ सकती है। शिवसेना ने इसके पीछे तर्क देते हुए कहा है कि देश में इस समय ऐसा सामाजिक और राजनैतिक माहौल बन चुका है कि देश के मुस्लिम मोदी का ही पक्ष लेंगे ऐसे में राम मंदिर बनाने का का रास्ता एकदम साफ हो जाता है।

दरअसल आपको बता देगी शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के संपादकीय में लिखा है कि पिछले 25 सालों में देश की राजनीति बदल चुकी है अब भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी मार्गदर्शक मंडल में हैं जबकि देश पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शासन है इसलिए राम मंदिर अब बनाया जाना चाहिए और इसके लिए देश की सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश कि नहीं अपितु प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के निर्देश की जरूरत है।

शिवसेना ने अपने मुख्य पत्र में लिखा है कि भाजपा को उत्तर प्रदेश में बड़ी जीत मिली है जो यह बात दिखाता है कि लोगों की यह आकांक्षा है कि राम मंदिर बने लोग आज आस्था के नाम पर ऐसा चाहते हैं और इसलिए उच्चतम न्यायालय को इस मामले में दखल नहीं देना चाहिए। सामना के संपादकीय में लिखा गया है कि आज पूरा हिंदुस्तान प्रधानमंत्री मोदी की बातें सुनता है और माहौल भी ऐसा है कि मुस्लिम भी उनकी बातें सुन रहे हैं शिवसेना ने कहा है कि उच्चतम न्यायालय इस मुद्दे पर एक स्पष्ट फैसला भी दे सकता है।

अन्ना हजारे बाबा रामदेव और अडवाणी जैसे लोगों के नेतृत्व में अदालत से बाहर सुलझाया जा सकता है मामला-
शिवसेना के मुखपत्र सामना में छपे संपादकीय में सुप्रीम कोर्ट की उस टिप्पणी का भी जिक्र करते हुए लिखा गया है कि यदि अदालत के बाहर मामले को सुलझाना है तो उसके लिए देश के वरिष्ठ समाजसेवी अन्ना हजारे, योग गुरु बाबा रामदेव तथा भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी जैसे दिग्गजों की अगुवाई में इस मामले को सुलझाया जा सकता है। उसके बाद इस मामले पर अदालत में जाने की किसी को भी कोई जरूरत नहीं होगी।

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY