अब भारत समुद्र से भी दाग सकेगा न्यूक्लियर मिसाइलें

0
11037

दिल्ली- हाल ही में भारत ने अपने सबसे बेहतरीन मिसाइल परिक्षण को अंजाम दिया था | इस मिसाइल के भारत के तरकश में आने के बाद पूरी दुनिया में खलबली मच गयी थी क्योंकि पूरी दुनिया के मुल्कों में पहले यह तकनीक केवल 4 देशों के ही पास थी | लेकिन अब इस तकनीक को भारत ने भी हासिल कर लिया है और ऐसा करने वाला भारत, अमेरिका, रूस, फ्रांस और चीन के बाद दुनिया का पांचवा देश बन गया है |

भारतीय सरहदों की रक्षा के लिए लौट आये कलाम –
भारतीय रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO)ने हाल ही में भारत के मिसाइल मैंन पूर्व वैज्ञानिक और राष्ट्रपति डाक्टर ए.पी.जे. अब्दुल कलाम के नाम पर एक मिसाइल का सफल परीक्षण किया था | जिसे भारत ने नाम दिया था K-4 |

इस मिसाइल की गिनती दुनिया दुनिया की सबसे बेहतरीन मिसाइलों में की जाती है | K-4 इस मिसाइल का कोड नेम है जो कि पूर्व राष्ट्रपति मिसाइल मैन डाक्टर एपीजे अब्दुल कलाम के नाम पर ही रखा गया है | इस मिसाइल के लांच करते ही भारत दुनिया के उन 5 देशों की लिस्ट में शामिल हो चुका है जिनके पास पानी से भी मिसाइल को दागने की क्षमता है |

जानें क्या है K-4 मिसाइल की खासियतें –
यह मिसाइल अपने साथ 2000 किलोग्राम तक के हथियारों को ले जा सकती है |
यह मिसाइल 3500 किलो मीटर तक बहुत आसानी से मार कर सकती है |
इस मिसाइल को समुद्र में सतह से 20 फिट नीचे से भी दागा जा सकता है |
इस मिसाइल को जमीन, हवा और जल कही से भी दागा जा सकता है |
इसका निशाना अचूक होता है |

भारत के अलावा और कौन-कौन से देशों के पास है यह रक्षा प्रणाली –
रक्षा अनुसंधान और विकास संस्थान (डीआरडीओ) ने जैसे ही इस मिसाइल का परिक्षण किया | परीक्षण के सफल होने के तुरंत बाद ही भारत पानी से मिसाइल दागने की क्षमता रखने वाले 5 देशों की लिस्ट में शामिल हो गया है |

भारत से पहले यह क्षमता केवल अमेरिका, रूस, फ्रांस और चीन के ही पास थी लेकिन अब भारत भी इस समूह का हिस्सा बन गया है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY