अवैध बूचड़खानों को बंद करने की मांग को लेकर तेज़ होने लगा आंदोलन

0
62
प्रतीकात्मक

(समस्तीपुर)- बिहार के सीमावर्ती उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा अवैध बूचड़खानों पर अंकुश लगा दिये जाने का मामला अब बिहार में भी गरमाने लगा है| अवैध रूप से चलाये जा रहे बूचड़खानों को बंद करने के लिए अब यहां भी कई संगठनों द्वारा धरना प्रदर्शन एवं सड़क जाम जैसे आंदोलनात्मक गतिविधियां शुरू कर दी गयी हैं|

नवगठित संगठन ‘हिंदु पुत्र’ के समर्थकों ने आज अवैध बूचड़खानों को बंद करने के मांग को लेकर शहर के प्रमुख समस्तीपुर-ताजपुर सड़क के काली स्थान के पास घंटों जाम किया| बाद में सूचना पर पहुंचे अनुमंडल पदाधिकारी के द्वारा इस संबंध में उचित कार्रवाई करने के आश्वासन पर जाम समाप्त किया गया| प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे संगठन के प्रदेश अघ्यक्ष अविनाश कुमार बादल ने बताया कि पहले भी इस मुद्दे को लेकर हमारा संगठन आंदोलनात्मक कार्रवाई कर चुका है लेकिन अभी तक जिला प्रशासन इस मामले में सार्थक कदम उठाने के बजाय कान में तेल डाले सोयी हुई है|

उन्होंने बताया कि इसी रास्ते से सुबह में लोग शहर के प्रसिद्ध शिव मंदिर थानेश्वर स्थान पूजा-अर्चना करने जाते हैं| इस रास्ते में लगभग एक दर्जन अवैध बूचडखाने हैं| जिससे मंदिर जाने वाले श्रद्धालुओं को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है| ‘हिंदू पुत्र’ संगठन के इस आंदोलन को अपना नैतिक समर्थन देने के लिए सड़क जाम स्थल पर भाजपा के जिला अध्यक्ष रामसुमिरन सिंह समेत काफी संख्या में भाजपा के कार्यकर्ता भी उपस्थित थे|

रिपोर्ट- रंजीत कुमार 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY