राजधानी दिल्ली में आज से फिर से लागू हुआ सैम और विषम का नियम

0
272

दिल्ली- राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में प्रदूषण पर लगाम लगाने के उद्देश्य से निजी चौपहिया वाहनों के लिए सम-विषम योजना का दूसरा चरण आज से शुरू हो गया है ज्ञात हो कि यह नियम इस बार भी 15 दिनों के लिए लागू किया गया है जो कि 30 अप्रैल तक चलेगा। दिल्ली के परिवहन मंत्री गोपाल राय ने बताया कि लोगों को कम से कम असुविधा हो, इसके लिए व्यापक प्रबंध किये गये हैं। ज्ञात होकि पहला चरण 1 जनवरी से 15 जनवरी तक चला था।

योजना के दौरान वाहनों के अंतिम पंजीकरण नम्बर के आधार पर इन्हें सम-विषम तिथियों पर चलाने की अनुमति होगी। सम तिथि को सम नम्बर विषम को विषम नम्बर की कारों को चलाया जा सकेगा। उल्लंघन करने वालों पर दो हजार रुपये का जुर्माना लगेगा । श्री राय ने बताया कि दिल्ली परिवहन निगम(डीटीसी) और दिल्ली मेट्रो सेवा को और अधिक चुस्त-दुरुस्त करने के उपाय किये गये हैं। परिवहन विभाग में नियंत्रण कक्ष बनाये गये हैं, जहां मेट्रो और डीटीसी समेत परिवहन के जितने भी साधन हैं, उनके बीच समन्वय स्थापित किया जायेगा।

बताते चलें कि 284 फिडर बसें पर्यावरण सेवा के तहत चलेंगी। इसके अलावा 40 से 50 छोटी बसों को भी मेट्रो फीडर सेवा के तहत इस्तेमाल किया जायेगा।डीटीसी बस ब्रेक डाउन होने पर यात्री 01141400400 नंबर पर शिकायत कर सकते है। 346 रूटों पर पर्यावरण बसें चलेंगी। सोलह शटल बस सेवायें दिल्ली से सटे क्षेत्रों से चलेंगी। नोएडा से दिल्ली के तीन विशेष रूटों पर 50 बसें, दिल्ली से गुडगाँव और द्वारका से गुडगाँव के लिए 28 बसें चलेंगी। योजना के दौरान नियमों का उल्लंघन करने वालों पर नजर रखने के लिये दो हजार पुलिसकर्मी तैनात होंगे। दो सौ केन्द्रों पर चार-पांच लोगों की टीम चौराहों पर तैनात होंगी। मुख्य स्थानों पर अतिरिक्त दल तैनात किये जायेंगे। सिविल डिफेंस के 5331 लोगों को 205 स्थानों पर तैनात किया जायेगा। इसके अलावा 331 वार्डन सरकार और वालियंटर के बीच समन्वय का काम करेंगे। वालिंयटरों के लिये पानी की व्यवस्था, सफेद टोपी के अतिरिक्त विशेष एम्बुलेंस भी तैनात किये जायेंगे। वालियंटर गांधीगीरी के जरिये लोगों से योजना का उल्लंघन नहीं करने के लिये जागरूक करेंगे।

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY