सुस्त पड़ता नज़र आ रहा है ओडीएफ शौचालय निर्माण कार्य

0
64

बीघापुर/उन्नाव (ब्यूरो) स्वच्छ भारत अभियान के तहत ग्राम सभाओं ओडीएफ शौचालयों को बनाने के लिए प्रशासन द्वारा जिस फुर्ती से शुरुआत कराई गई थी तथा ग्राम सभाओं में ग्राम प्रधानों ने जिस मनोयोग से शुरुआत की थी, वह शिथिल दिखाई पड़ रही है। विकास खण्ड के गांवों में शौचालयों के लिए गड्ढ़े गए परन्तु निर्माण सामग्री मंहगी होने के कारण प्रधानों के हाथ पांव फूल रहे हैं।

निर्माण कार्य में लगने वाली मौंरग के भाव आसमान छू रहे हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए 12 हजार रु. की लागत से सरकार द्वारा दिए गए शौचालय निर्माण के प्रारूप के अनुसार निर्माण पूरा कराना असम्भव प्रतीत हो रहा है, वहीं बताया जाता है कि ब्लाक अधिकारियों द्वारा कहा गया है कि निर्माण कार्य में बालू का प्रयोग ज्यादा किया जाए, उसके लिए दिन में ग्राम प्रधान ट्रैक्टर द्वारा गंगा नदी से बालू ला सकते हैं। बर्शते ट्राली पर ग्राम सभा का नाम व ओडीएफ शौचालय हेतु प्रयोगार्थ का बैनर लगा होना चाहिए, इसके बाद भी कोई ग्राम प्रधान अभी तक बालू लाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा है।क्यों कि इस सम्बन्ध में कोई लिखित आदेश नहीं है।अब ऐसे में भारत सरकार के स्वच्छ भारत मिषन का लक्ष्य कैसे पूरा होगा यह तो राम ही जाने।

रिपोर्ट – मनोज सिंह

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here