जाँच के नाम पर अधिकारीयों की हो रही चांदी

0
28

ऊंचाहार/रायबरेली ब्यूरो सूबे के सीएम के आदे के बावजूद परिदीय विद्यालयो के देखरेख मे लगे एनपीआरसी से लेकर ब्लाक के अधिकारियों तक के मिली भगत से अपंजीकृत विद्यालय मे लगाम लगाने की जगह कौडियों की तरह उसका कारोबार फल फूल रहा है। ऊंचाहार तहसील क्षेत्र के अन्तर्गत तीरकापुरवा, कंदरावां, बीकरगढ, जमुनापुर, बाबूगंज, बाबाकापुरवा, अरखा, अकोडिया, सवैयातिराहा, ऊंचाहार नगर, बहेरवा, परसीपुर, मतरमपुर, रसूलपुर, धौराहरा, उमरन, सबीसपुर, पटेरवा आदि समेत दर्जनों जगहां पर कौडियों की दुकान की तरह अपंजीकृत विद्यालय धडल्ले से चलाया जा रहा है जिसका कारण है कि परिदीय विद्यालयों के अन्तर्गत रखे गये एनपीआरसी की साठगांठ है क्योंकि उनके क्षेत्र मे कक्षा एक से इंटरमीडिएट तक के क्लासें संचालित वगैर मान्यता के हो रहा है। जिसमे ब्लाक मे तैनात िक्षाविभाग के अधिकारियों को प्रतिमाह महिनावारी बंधे होने की चर्चा जोरों पर है जिसके कारण ही मामले मे कार्यवाही नही होती है और बेखौफ होकर वगैर मान्यता के विद्यालय संचालित हो रहे है।

कोचिंग की भी नहीं है मान्यता
ऊंचाहार नगर, बहेरवा, बाबूगंज, अरखा मे कोचिंग सेंटर धडल्ले से चलाया जा रहा है जिनका न तो रजिस्टेन है न ही वहां पर बीएड व विषेज्ञ अध्यापक है लेकिन प्रतिछात्र एक हजार रूपये से लेकर पांच हजार रूपये तक वसूला जा रहा है जिससे वगैर रजिस्टेन के चल रहे कोचिंगों मे अवैध वसूली पर कौन लगाम लगायेगा ये एक प्रन चिन्ह बनकर गूंज रहा है।

अधिकारियों के आंखो तले खेल
ब्लाक के बीईओ की तैनाती इसी लिये होता है कि वह क्षेत्र मे अवैध व अपंजीकृत विद्यालयों पर लगाम कसकर उसके संचालन रोके न मानने पर उनके खिलाफ विभागी कार्यवाही करके उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाकर जेल भेजे और परिदीय विद्यालय के बच्चों की िक्षा व्यवस्था चुस्त-दुरूस्त करने के लिये विद्यालयों का भ्रमण करके भौतिक सत्यापन करें जिसके लिये वकायदा टीए डीए तक उनको मिलता है लेकिन बीईओ क्षेत्र का भ्रमण न करके आफिस से ही खानापूर्ति करते है। जिसका आलम ये है कि परिशदीय विद्यालय मे लूट घसूट मचा हुआ है जिसमे बुधवार को मिलने वाला दूध तक नही वितरण किया जा रहा है न ही शनिवार को मिलने वाले फलों का वितरण किया जा रहा है।

साहब की जुबान
एसडीएम मदन कुमार ने बताया कि मामला वाकई मे गंभीर है जिसके लिये प्रासनिक टीम बनवाकर उसके लिये प्रासनिक जांच करवाया जायेगा जिसके बाद विभागी कार्यवाही किया जायेगा।

रिपोर्ट – अनुज मौर्य/सर्वेश

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY