अधिकारी भी बेबस, बिजली की किल्लत से परेशान ग्रामीण

0
173

प्रतापगढ़(ब्यूरो)- जनपद प्रतापगढ़ में शहर से लेकर गांव तक बिजली के लिए हाहाकार सबसे बड़ी समस्या लो वोल्टेज प्रतापगढ़ जनपद में बिजली की सप्लाई भुपिया मऊ पावर हाउस 132 केवीए का प्रतापगढ़ जनपद में बनाया गया है, जहां से पूरे जनपद की बिजली की सप्लाई की जाती है |

एक ताजा मामला प्रकाश में आया है, विश्वनाथ गंज पावर हाउस 32 केवीए का है, जो सप्लाई भूपिया मऊ से विश्वनाथ गंज को सप्लाई मिलती है, यह सप्लाई नियमित 11केवी मिलनी चाहिए, परंतु वर्तमान समय में यह सप्लाई मात्र 8:00 एवं  9 के बी की सप्लाई मिल रही है|

जिसके कारण ग्रामीण क्षेत्रों में लो वोल्टेज की समस्या गमभीर अथवा विकराल रुप धारण कर लिया है, ऐसी समस्या इसके पूर्व जिले मे कभी नहीं थी, यह समस्या ग्रामीण क्षेत्रों में चौतरफा बनी हुई है, विश्वनाथ गंज पावर हाउस के विद्युत विभाग के अवर अभियंता एसके सिंह के द्वारा आज सराय राजा एवम खरवई गांव में राज्य सरकार द्वारा किसानों के खेतों की सिंचाई करने के लिए स्टेट ट्यूबवेल लगाया गया है|

जो ट्यूबवेल लो वोल्टेज के चलते नहीं चल पा रहा है, क्षेत्र की किसानी चौपट हो रही है वही फसलें बर्बाद हो रही है, ना तो तालाबों में पानी है, ना ही नहरों में पानी है, सबसे बड़ी समस्या तो पालतू जानवर तथा जंगली जानवरों के लिए उत्पन्न हो गई है| आज अवर अभियंता के द्वारा यह दोनों ट्यूबवेलों पर जा कर लो वोल्टेज को चेक किया गया, तो यह मामला प्रकाश में आया है|

चेकिंग के दौरान 430 के स्थान पर मात्र 290 वोल्ट की विद्युत सप्लाई ग्रामीण क्षेत्रों में उपलब्ध है, तो आप स्वयं इसका अंदाजा लगाइए कि ग्रामीण जनता जनार्दन विद्युत विभाग द्वारा जो बिजली मिल रही है, उसमें भी भीषण कटौती की जा रही है, जनता जनार्दन क्यों न त्राहि-त्राहि करने को मजबूर हो |

क्योंकि यह समस्या अब जिले में कोई सुनने वाला नहीं है, वर्तमान समय में अखंड भारत न्यूज़ के पत्रकार अवनीश कुमार मिश्र के द्वारा विद्युत विभाग के सहायक अभियंता श्री यस के सिंह से जब दूरभाष पर बात की गई तो उन्होंने बताया कि यह समस्या मेरे बस की नहीं रह गई है, मैं तो स्वयं स्टेट ट्यूबवेल की समस्या को ध्यान में रखते हुए गांव गलियारों में जाकर इस तपती दुपहरी में जनता जनार्दन के सेवा के लिए मैं स्वयं प्रयास कर रहा हूं, परंतु इस समस्या का निदान मेरे बस में नहीं है|

आप सीधा जिलाधिकारी प्रतापगढ़ से संपर्क करें तो हो सकता है कि इस समस्या का हल हो सके, यह सत्य है कि लगभग डेढ़ माह से प्रतापगढ़ जिले की जनता जनार्दन अवश्य त्राहि-त्राहि कर रही होगी क्योंकि मैं अपने पावर हाउस के अंतर्गत इस गंभीर समस्या को सुनते सुनते स्वयं परेशान हो चुका हूं |

मैंने अपने उच्चाधिकारियों से कई बार इस समस्या के बारे में जानकारी दे चुका हूं, परंतु आज तक इस समस्या का निदान नहीं हो पाया है, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी का ध्यान प्रतापगढ़ जनपद की बिजली समस्या की ओर जनपद वासियों ने आकृष्ट कराया है|

जो कि योगी सरकार का फरमान है कि गांव में 18 घंटे विद्युत आपूर्ति हर हाल में होनी चाहिए, इसका भी शासनादेश उत्तर प्रदेशसरकार  के द्वारा जनपद प्रतापगढ़ के अधिकारियों को प्राप्त हो चुका है, परंतु यह बिजली किस काम की जिसमें लोग अपने दरवाजे पर उजाला न देख सके, मोबाइल भी  चार्ज  न कर सके, जानवरों को पानी पिला न सके, खेती-किसानी न कर सके, तो ऐसी बिजली व्यवस्था किस काम की |

रिपोर्ट-अवनीश कुमार मिश्रा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here